Thursday, October 18, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

लगातार हो रही बारिश ने चेन्नई को किया पानी-पानी, कार्यालय, काॅलेज और स्कूल बंद

अंग्वाल न्यूज डेस्क
लगातार हो रही बारिश ने चेन्नई को किया पानी-पानी, कार्यालय, काॅलेज और स्कूल बंद

चेन्नई। राज्य में हो लगातार बारिश ने लोगों के साथ सरकार की भी परेशानियां बढ़ा दी हैं। मौसम विभाग ने आने वाले 24 घंटों में और बारिश होने की संभावना जताई है। राज्य सरकार ने एहतियात बरतते हुए सभी कार्यालय, स्कूल और काॅलेज को बंद रखने के आदेश दिए हैं। बता दें कि चेन्न्ई में शुक्रवार को सुबह से बारिश हो रही है और अब तक करीब 190 मिलीमीटर बारिश रिकाॅर्ड की गई है। सरकार ने शहर में निजी संगठनों से भी छुट्टी घोषित करने के लिए अनुरोध किया है।

परेशानियों का सामना

गौरतलब है कि चेन्नई में लगातार कल से बारिश हो रही है। इससे लोगों की रोजमर्रा को बुरी तरह से प्रभावित किया है। शहर के ज्यादातर जगहों पर पानी भर जाने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। कोराट्टूर के ईएसआई अस्पताल में भी पानी भर गया है जिससे वहां भर्ती मरीजों के इलाज में काफी दिक्कतें आ रहीं हैं। 

ये भी पढ़ें - टेरर फंडिंग मामले में फंसे सलाउद्दीन के बेटे शाहिद यूसुफ पर सरकार ने की कार्रवाई, नौकरी से कि...

पानी निकलाने के लिए लगाए गए पंप


आपको बता दें कि चेन्नई में नगर निकाय के द्वारा सड़कों पर जमा पानी को निकालने के लिए 400 से ज्यादा पंप लगाए गए हैं और नगर निकाय के स्टाफ 24 घंटे लगातार काम मंे जुटे हुए हैं। राहत कार्यों में तेजी लाने के लिए हर क्षेत्र के लिए 2 मंत्रियों को नामित किया गया है।  

दो बच्चियों की हुई मौत

यहां यह बात भी गौर करने वाली बात है कि बारिश के कारण पानी में करंट लगने से 8 और 10 साल की 2 लड़कियों की मौत हो गई थी। इस पर कार्रवाई करते हुए बिजली विभाग के कर्मचारियों को निलंबित भी किया गया है और मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये का मुअवाजा देने का ऐलान किया गया है। 

 

Todays Beets: