Thursday, January 17, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

छात्रों से स्कूल के बाहर काम कराया तो होगी कार्रवाई, शिक्षा महानिदेशक ने जारी किए निर्देश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
छात्रों से स्कूल के बाहर काम कराया तो होगी कार्रवाई, शिक्षा महानिदेशक ने जारी किए निर्देश

नई दिल्ली। स्कूल के बाहर छात्रों से काम करवाना शिक्षकों को महंगा पड़ सकता है। आमतौर पर ऐसा देखा जाता है कि शिक्षक स्कूल के बाहर भी काम करा लेते हैं। स्कूल से बाहर छात्रों से कोई भी काम करवाने से पहले स्कूल के प्रिंसीपल को शिक्षा विभाग से अनुमति लेनी होगी। हरियाणा के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों के साथ स्कूलों के प्रिंसीपलों को सेकेंडरी शिक्षा महानिदेशक ने पत्र जारी कर निर्देश जारी किए हैं। आदेश का उल्लंघन करने वालों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। 

गौरतलब है कि सेकेंडरी शिक्षा महानिदेशक की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि अक्सर स्कूलों से बाहर ले जाकर बच्चों से कार्य कराए जाते हैं। यह बच्चों की सुरक्षा की दृष्टि से ठीक नहीं है। इसके साथ ही बाहर जाने से बच्चों की शिक्षा प्रभावित होती है। ऐसे में अगर शिक्षक छात्रों के साथ स्कूल के बाहर कोई काम करते हैं तो स्कूल के मुखिया को शिक्षा विभाग से अनुमति लेनी पड़ेगी। 


ये भी पढ़ें - चुनाव परिणाम आने के बाद एक बार फिर से बढ़ने लगे पेट्रोल के दाम, दिल्ली में 30 पैसे की वृद्धि

यहां बता दें कि इस आदेश का उल्लंघन करने पर संबंधित शिक्षक, स्कूल मुखिया व अधिकारी के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। आमतौर पर ऐसा देखा जाता है कि जागरूकता अभियान चलाने के लिए बच्चों के साथ जागरूकता रैली निकाली जाती है। अब विभाग ने ऐसे सभी कार्यक्रमों पर पाबंदी लगा दी गई है। यह अलग बात है कि किसी खास दिवस व आयोजन पर विभाग से विशेष निर्देश दिए जाते रहे हैं।

Todays Beets: