Monday, September 25, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

गुरुग्राम की एयरहोस्टेस ने जयपुर एयरपोर्ट पर पायलट को जड़ दिया थप्पड़

अंग्वाल न्यूज डेस्क
गुरुग्राम की एयरहोस्टेस ने जयपुर एयरपोर्ट पर पायलट को जड़ दिया थप्पड़

जयपुर । गुरुग्राम की रहने वाली एक एयरहोस्टेस की जयपुर एयरपोर्ट के बाहर एक पायलट से हाथापाई हो गई। इस दौरान गुस्साई एयरहोस्टेस ने पायलट को जोरदार थप्पड़ तक जड़ दिया। इतना ही नहीं इसके बाद इस एयरपोर्ट ने पायलट का मोबाइल भी तोड़ दिया। हवाई अड्डे के बाहर सड़क पर हुए इस हंगामे को देखकर आसपास भीड़ लग गई। इस बीच एयरपोर्ट पर मौजूद सुरक्षा गार्ड ने इन दोनों की लड़ाई छुड़वाने की कोशिश भी की लेकिन उस दौरान कोई फायदा नहीं हुआ। यह सारा विवाद वहां लगे एक सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया है। हालांकि अभी तक इस हाथापाई के कारणों का पता नहीं चल सका है। एयरहोस्टेस की पहचान अर्पिता के रूप में हुई है, जबकि पायलट का नाम आदित्य है। 

जानकारी के अनुसार, एयरपोर्ट के बाहर एयरहोस्टेस अर्पिता और आदित्य के बीच जोर-जोर से बहस होने लगी। दोनों के बीच बहस एकाएक हिंसक हो गई और दोनों एक दूसरे से भीड़ तक गए। इन्हें शांत कराने के लिए पहल वहां मौजूद सुरक्षा गार्ड ने उनकी लड़ाई में बीच बचाव करने का प्रयास किया लेकिन वे शांत नहीं हुए। इस दौरान अर्पिता ने आदित्य के एक जोरदार थप्पड़ भी जड़ दिया। 


हंगामा ज्यादा होने पर एयरपोर्ट प्रशासन ने दोनों को हिरासत में लेकर घटना की जानकारी सांगानेर पुलिस स्टेशन को दी। सांगानेर पुलिस थाने के एसएचओ शिव रत्न गोदरा के अनुसार, सुरक्षाकर्मियों ने शुरुआत में निजी मामला होने के चलते ज्यादा दखल नहीं दी, लेकिन बाद में उनका हंगामा देखकर लोग वहां जुटने लगे थे। इन दोनों को हिरासत में लिया गया था लेकिन बाद में छोड़ दिया गया है। 

Todays Beets: