Wednesday, January 23, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

केरल में राहत सामग्री के वितरण में गड़बड़ी कर रहे कर्मचारी, 2 को किया गया गिरफ्तार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
केरल में राहत सामग्री के वितरण में गड़बड़ी कर रहे कर्मचारी, 2 को किया गया गिरफ्तार

नई दिल्ली। आपदा प्रभावित केरल में राहत सामग्री भी जरूरतमंदों तक पहुंचाने में गड़बड़ी की जा रही है। एक उच्च अधिकारी की शिकायत के बाद दो कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि वायनाड़ जिले में ये दोनों कर्मचारी राहत सामग्री में हेरा-फेरी कर रहे थे। हालांकि दोनों ने खुद पर लगाए गए आरोपों को गलत बताया है और कहा कि राहत सामग्री की जरूरत पास के गांव में थी जिसे लेकर वे जा रहे थे लेकिन लोगांे ने अनियमितता का आरोप लगाते हुए पुलिस को बुला लिया। 

गौरतलब है कि बाढ़ से बुरी तरह से प्रभावित केरल में देश भर से राहत सामग्री भेजी जा रही है लेकिन उसे जरूरतमंदों तक पहुंचाने वाले कर्मचारी इसमें भी गड़बड़ी कर रहे हैं। बता दें कि उनके साथ काम करने वाले एक उच्च अधिकारी ने ही उनकी शिकायत की थी। इसके बाद पुलिस ने एमपी दिनेश और थाॅमस नाम के दोनों कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया है। 

ये भी पढ़ें - केरल में मौसम का रुख हुआ नरम, सुप्रीम कोर्ट ने दिए मुल्लापेरियार डैम में पानी का स्तर कम रखने...


यहां बता दें कि वायनाड़ के अलावा चेंगन्नूर जिले में भी राहत सामग्री के वितरण में भी गड़बड़ी की खबरें आ रहीं हैं। आपको इस बात की जानकारी दे दें कि देश भर से भेजी जाने वाली राहत सामग्री के वितरण की जिम्मेदारी सरकारी कर्मचारियों पर है। गौर करने वाली बात है कि केरल में आई भीषण बाढ़ में करीब 400 लोगों की जानें जा चुकी हैं जबकि लाखों लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया है।   

 

Todays Beets: