Thursday, November 23, 2017

Breaking News

   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||   अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित नहीं करेगा चीन, प्रस्ताव पर रोक लगाने के संकेत     ||   दुनिया की सबसे लंबी सुरंग बनाकर चीन अब ब्रह्मपुुत्र नदी का पानी रोकने का बना रहा है प्लान     ||   पीएम मोदी को शीला दीक्षित ने दिया जवाब- हमने नहीं भुलाया पटेल का योगदान    ||   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||

विधवाओं और दिव्यांगों से शादी करने पर सरकार देगी 2 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि 

अंग्वाल संवाददाता
विधवाओं और दिव्यांगों से शादी करने पर सरकार देगी 2 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि 

भोपाल। मध्यप्रदेश में विध्वा और दिव्यांग महिला व पुरुष से शादी करने पर सरकार की तरफ से दंपति को दो लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इसी तरह अनाथ बच्चों के पालन पोषण के लिए पांच सौ रुपये प्रतिमाह देने की योजना को भी जल्द लाने और लागू करने की बात की जा रही है। सामाजिक न्याय मंत्री गोपाल भार्गव ने इन तीन बड़ी योजनाओं को लागू करने की सहमति दी है। सामाजिक न्याय विभाग के प्रमुख सचिव अशोक शाह ने तीनों योजनाओं के प्रस्ताव विभागीय मंत्री को भेजे थे। बैठक में शाह ने बताया कि विधवाएं  अमूमन समाज में उपेक्षा की शिकार हो जाती हैं।

यह भी पढ़े- हिंदी दिवस स्पेशल: कारोबार, पर्यटन सहित अब बाजार की मांग बन चुकी है हिंदी, बढ़ गया है विश्व म...

यदि कोई अविवाहित व्यक्ति किसी विधवा से विवाह करता है तो उस दंपति को प्रोत्साहन के रूप में दो लाख रुपये की राशि दी जाएगी। गोपाल भार्गव ने इस इस प्रस्ताव पर सहमति जताते हुए कहा कि ये कदम समाज की सोच में बदलाव लाएगा। इसी तरह दिव्यांग से सामान्य व्यक्ति या महिला शादी करती है तो उन्हें भी दो लाख रुपए दिए जाएंगे। साथ ही उन्होंने इस बात भी जोर दिया कि इस योजना का लाभ केवल वास्तविक दिव्यांगो को ही मिलेगा।


यह भी पढ़े-  इस दिव्यांग बच्चे का वीडियो देख आप हो जाएंगे भावुक, आनंद महिंद्रा ने वीडियो शेयर कर बताया प्र...

इसके लिए मेडिकेल बोर्ड का प्रमाण-पत्र होना अनिवार्य होगा। साथ ही भौतिक सत्यापन भी कराया जाएगा। विभाग ने प्रस्ताव दिया कि ऐसे नाबालिग बच्चे जो पूरी तरह अपने परिजनों पर निर्भर हैं, उनके भरण-पोषण का पुख्ता इंतजाम किया जाएगा। 

Todays Beets: