Monday, August 20, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

कांवड़ यात्रा पर मंडराया आतंकी हमले का साया, की जा रही सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कांवड़ यात्रा पर मंडराया आतंकी हमले का साया, की जा रही सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था

लखनऊ।  कुछ दिनों के बाद शुरू होने वाली कांवड़ यात्रा पर भी आतंकी साया मंडरा रहा है। खुफिया विभाग से मिली जानकारी के बाद उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड के आला अधिकारियों की बैठक हुई है। बता दें कि कांवड़ यात्रा 28 जुलाई से शुरू होकर 9 अगस्त तक चलेगी। इसे देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था अभी से कड़ी कर दी गई है। सुरक्षा अधिकारियों ने बताया कि यात्रा के दौरान सिविल ड्रेस में पुलिस और एसटीएफ के जवान भी भक्तों के साथ चलेंगे। इसके साथ ही ड्रोन कैमरे से भी इस पर नजर रखी जाएगी। 

गौरतलब है कि पश्चिमी उत्तरप्रदेश में कांवड़ यात्रा का काफी धार्मिक महत्व है। सुरक्षा अधिकारियों का कहना है कि पिछले कुछ सालों में इस मामले में कई आतंकियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। ऐसे में इस बार भी सुरक्षा व्यवस्था अभी से दुरुस्त रखने की कवायद तेज कर दी गई है। यूपी और उत्तराखंड के पुलिस और खुफिया एजेंसियों को आला अफसरों की बैठक देहरादून में हुई है। वेस्ट यूपी  के जिलों के पुलिस और प्रशासन के अफसरों  से यात्रा रूट के संवेदनशील और अति संवेदनशील स्थानों की सूची मांगी है।


ये भी पढ़ें - जदयू-भाजपा के बीच चल रहा है फ्रेंडली मैच, जदयू ने लगाया भाजपा पर आरोप

खुफिया विभाग ने बताया है कि अगले साल देश में चुनाव भी हैं ऐसे मंे आतंकी किसी हमले को अंजाम देकर माहौल को खराब करने की कोशिश कर सकते हैं। खबरों के अनुसार यात्रा रूटों पर अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती की जाएगी। पूरे यात्रा रूट पर ड्रोन के साथ हैलीकाॅप्टर से भी नजर रखी जाएगी।  

Todays Beets: