Wednesday, September 19, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

मुरली मनोहर जोशी गुस्से में वित्त सचिव से बोले- मुझे GDP ना समझाओ, मेरी और जीडीपी की उम्र एक बराबर 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मुरली मनोहर जोशी गुस्से में वित्त सचिव से बोले- मुझे GDP ना समझाओ, मेरी और जीडीपी की उम्र एक बराबर 

नई दिल्ली । भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी की अध्यक्षता वाली प्राक्कलन समिति ने बैकों के बढ़ते कर्ज के मुद्दे पर जानकारी के लिए मंगलवार को मुख्य आर्थिक सलाहकार पद से इस्तीफा देने वाले अरविंद सुब्रमण्यम के साथ-साथ ईडी और सीबीआई के अधिकारियों को बुलाया था। इस दौरान बैकों के बढ़ते एनपीए पर बातचीत के लिए वित्त सचिव हंसमुख आदिया और आरबीआई  के डिप्टी गवर्नर समेत वित्त मंत्रालय के कई अफसरों को बुलाया गया था। खबरों के अनुसार, बैठक के दौरान जब वित्त सचिव आदिया ने मुरली मनोहर जोशी को एनपीए की जानकारी देते हुए जीडीपी के बारे में कुछ कहा तो भाजपा के ये वरिष्ठ नेता भड़क उठे। उन्होंने वित्त सचिव को कड़े अंदाज में कहा कि मेरा जन्म 5 जनवरी, 1934 को हुआ था जबकि जीडीपी का 4 जनवरी, 1934 को हुआ था इसलिए मैं जीडीपी को जन्म से फॉलो कर रहा हूं। इसलिए मुझे GDP के बारे मत बताइए। 

समलैंगिकता पर केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा- कोर्ट ही तय करे सहमति से बालिगों का समलैंगिक संबंध अपराध है या नहीं

30 सदस्यी समिति ने उठाए कई सवाल

बता दें कि इस बैठक के दौरान 30 सदस्यीय समिति के सदस्यों ने बैंकिंग क्षेत्र में बढ़ते एनपीए और एनपीए के कारण उत्पन होने वाले संकट पर कई सवाल उठाए । बैठक में वित्त सचिव हंसमुख आदिया और आरबीआई  के डिप्टी गवर्नर समेत वित्त मंत्रालय के कई वरिष्ठ अफसरों को बुलाया गया करीब 4  घंटे तक चली इस बैठक में समिति सदस्यों ने उन बैंकों के बोर्ड मीटिंग्स के मिनट्स और दस्तावेज मांगें जिनमें बड़े बैंक कर्ज को मंजूरी दी गई थी। 


सोशल मीडिया पर अब नहीं फैलेंगी फर्जी खबरें, कानून और आईटी मंत्रालय मिलकर जारी करेंगे दिशा-निर्देश

शिकायतों की जांच किस स्तर पर पहुंची

वहीं इस बैठक में ईडी निदेशक करनैल सिंह और सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा को भी बुलाया गया था। उन्हें बुलाए जाने के बारे में खबर है कि इन दोनों अफसरों को आने वाले दिनों में समिति को जानकारी देनी होगी कि बैंकों के द्वारा दिए वो लोन जो एनपीए हो चुके हैं और बैंकिंग बोर्ड में जिन अधिकारियों के खिलाफ शिकायत आई है, उनकी जांच किस स्तर पर की जा रही है। 

अब सेना के जवानों से नहीं लिया जाएगा अर्दली जैसा काम, सेनाप्रमुख ने जारी की नई गाइडलाइन

Todays Beets: