Thursday, January 17, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

कोर्ट ने करोड़ों रुपये के फर्जी स्टांप पेपर घोटाले के आरोपी तेलगी को किया बरी, अन्य आरोपी भी छूटे

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कोर्ट ने करोड़ों रुपये के फर्जी स्टांप पेपर घोटाले के आरोपी तेलगी को किया बरी, अन्य आरोपी भी छूटे

मुंबई। महाराष्ट्र में करोड़ों रुपये के स्टांप पेपर घोटाले के मुख्य आरोपी अब्दुल करीम तेलगी को नासिक की एक कोर्ट ने सोमवार को बरी कर दिया। बताया जा रहा है कि सबूतों के अभाव में कोर्ट ने यह फैसला सुनाया है। कोर्ट ने तेलगी के अलावा रेलवे सुरक्षा बल के कर्मचारियों को भी बरी कर दिया जो इस मामले में आरोपी थे। गौर करने वाली बात है कि पिछले साल ही अब्दुल करीम तेलगी की अस्पताल में मौत हो गई थी। इसके बाद ही उसपर लगे सभी आरोपों को हटा लिया गया था। 

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में करोड़ों रुपये का स्टांप पेपर का घोटाला किया गया था। इस मामले में अब्दुल करीम तेलगी नाम के शख्स को मुख्य आरोपी माना गया था और सालों से उसके खिलाफ मुकदमा चलता रहा। सोमवार को नासिक की एक कोर्ट ने तेलगी को इस केस में बरी कर दिया। हालांकि पिछले साल उसकी मौत के बाद ही उसपर लगे आरोपांे को हटा लिया गया था। 

ये भी पढ़ें - तिहाड़ नहीं मंडोली जेल भेजे गए सज्जन कुमार, कड़कड़डूमा कोर्ट में किया आत्मसमर्पण


यहां बता दें कि नासिक के जिला न्यायाधीश पी आर देशमुख ने यह फैसला सुनाया। रेलवे सुरक्षा बल के अधिकारी और कर्मचारी भी इस मामले में आरोपी थे। हालांकि केस की सुनवाई के दौरान ही करोड़ों रुपये के जाली स्टाम्प पेपर घोटाले के आरोपी अब्दुल करीम तेलगी का पिछले साल अक्टूबर में बेंगलुरु के एक सरकारी अस्पताल में निधन हो गया था। उसके शरीर के सभी अंगों ने काम करना बंद कर दिया था।

  

Todays Beets: