Thursday, January 17, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

नोएडा में नहीं पढ़ सकेंगे खुले में नमाज, लोगों की शिकायत के बाद पुलिस ने जारी किया आदेश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
नोएडा में नहीं पढ़ सकेंगे खुले में नमाज, लोगों की शिकायत के बाद पुलिस ने जारी किया आदेश

नई दिल्ली। उत्तरप्रदेश के नोएडा में पुलिस ने मंगलवार को मुसलमानों को खुले में नमाज पढ़ने से रोक दिया है। मामला नोएडा के सेक्टर 58 के औद्योगिक क्षेत्र का है। यहां नोएडा अथाॅरिटी के एक पार्क में अक्सर बड़ी संख्या में मुस्लिम खुले में नमाज पढ़ने आते हैं। स्थानीय लोगों की शिकायत पर नोएडा पुलिस ने पार्क में नमाज पढ़ने वालों को मना कर दिया है। इसके साथ ही पार्क में नोटिस भी चस्पा कर दिया गया है। जिन कंपनी के कर्मचारी पार्क में नमाज पढ़ने आते है उन्हें भी चेतावनी दे दी गई है। बता दें कि इससे पहले गुरुग्राम में भी ऐसा ही एक मामला सामने आया था। 

गौरतलब है कि सेक्टर 58 के निवासियों ने पुलिस के पास शिकायत की थी कि पार्क में पहले कुछ लोग नमाज पढ़ने आते थे लेकिन अब उनकी संख्या 200 के करीब पहुंच गई है। पार्क में नमाज पढ़ने की वजह से स्थानीय लोगांे को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। लोगों की शिकायत के बाद पुलिस ने वहां एक नोटिस चस्पा कर लोगों से खुले में नमाज न पढ़ने के लिए कहा है। 

ये भी पढ़ें - भारत को अस्थिर कर सकता है पाकिस्तान, आईएसआई 2 हजार और 500 के नकली नोट भेजने के फिराक में- खुफ...


यहां बता दें कि पुलिस की ओर से उन कंपनियों को भी चेताया गया है जहां ये सभी लोग काम करते हैं। पुलिस ने कंपनियों को नमाज पढ़ने के लिए जमीन मुहैया कराने के सलाह दी है। आपको बता दें कि नोएडा के एसएसपी अजयपाल शर्मा ने कहा कि दोनों की पक्षों से बात करने के बाद उन्हें समझा दिया गया है और फिलहाल यहां किसी तरह के तनाव की स्थिति नहीं है। 

गौर करने वाली बात है कि पिछले दिनों गुरुग्राम में भी इस तरह का मामला सामने आया था। इसके बाद हरियाणा सरकार के मंत्री अनिल विज ने इसे मुसलमानों के द्वार जमीन कब्जा करने का तरीका बताया था। 

 

Todays Beets: