Monday, September 24, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

अब जल्द ही आप पी सकेंगे कोकाकोला की ‘काॅफी’, कंपनी ने कोस्टा को 5.1 अरब डाॅलर में खरीदा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब जल्द ही आप पी सकेंगे कोकाकोला की ‘काॅफी’, कंपनी ने कोस्टा को 5.1 अरब डाॅलर में खरीदा

नई दिल्ली। अब कोका का मतलब सिर्फ ‘ठंडा’ नहीं बल्कि ‘गरम’ भी होगा। जी हां अब जल्द ही आप इस कंपनी की सिर्फ कोल्डड्रिंक और जूस के साथ काॅफी भी पी सकेंगे। दरअसल कोका कोला ने दुनिया की सबसे बड़ी काॅफी चेन में से एक ‘कोस्टा काॅफी’ को 5.1 अरब डाॅलर में खरीद लिया है। दुनिया भर में कोस्टा काॅफी के 3 हजार से ज्यादा आउटलेट्स हैं। भारत में भी इसके 90 के करीब आउटलेट्स हैं। आइए इसके बारे में थोड़ा विस्तार से जानते हैं। 

गौरतलब है कि कोस्टा काॅफी इंग्लैंड की सबसे बड़ी काॅफी कंपनी और स्टारबक्स के बाद दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी है। आपको बता दें कि 32 देशों के लोग इसकी कॉफी पीते हैं और इन देशों में इसके 3,821 आउटलेट्स हैं जिनमें से अकेले 2,422 इंग्लैंड में ही हैं। वहीं अगर भारत में इस काफी की बात करें तो यहां इसकी बिक्री साल 2005 में शुरू हुई थी और इसके 90 आउटलेट हैं। बताया जा रहा है कि बीते 8 सालों में यह कोका-कोला कंपनी की सबसे बड़ी खरीददारी है।

ये भी पढ़ें - वाराणसी हवाई अड्डे पर इंडिगो विमान की हुई आपात लैंडिंग, सभी 84 यात्री सुरक्षित निकाले गए


गौर करने वाली बात है कि इटली के दो भाइयों सर्जिया और ब्रूनो ने मिलकर साल 1971 में इस कंपनी को शुरू किया था लेकिन कुछ समय बाद इंग्लैंड की कंपनी व्हाइटब्रेड ने 175 करोड़ रुपये में इसे खरीद लिया। इस कंपनी का मुख्य व्यवसाय होटल का था इस वजह से इसी साल उसने कोस्टा को एक अलग कंपनी के तौर पर स्थापित किया था लेकिन कोक के साथ डील करने के बाद कंपनी को फायदा हुआ लिहाजा कंपनी ने इसे बेच दिया। 

 

Todays Beets: