Saturday, November 17, 2018

Breaking News

   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||

अब सस्ते राशन की दुकान से भी निकाल सकेंगे पैसे, सरकार जल्द शुरू करेगी योजना

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब सस्ते राशन की दुकान से भी निकाल सकेंगे पैसे, सरकार जल्द शुरू करेगी योजना

शिमला। हिमाचल के दूर-दराज इलाकों में रहने वाले लोगों को जल्द ही बड़ी खुशखबरी मिलने वाली है। यहां लोग अब अपने सस्ते राशन की दुकान और खाद्य सामानों की बिक्री करने वाले दुकानों की पीओएस मशीन से एटीएम कार्ड स्वाइप कर नकदी भी निकाल सकेंगे। बता दें कि पहाड़ी इलाकों में हर जगह एटीएम की सुविधा नहीं मिल पाती है और लोगों को पैसे निकालने के लिए एक लंबा सफर तय करना पड़ता है। हिमाचल सरकार के अतिरिक्त वित्त सचिव ने बैंकर्स समिति की बैठक में सभी सस्ते राशन की दुकानों और खाद्य सामानों की बिक्री करने वाले दुकानों को यह निर्देश जारी किए हैं। 

गौरतलब है कि मैदानी इलाकों की तरह पहाड़ों में हर जगह एटीएम की सुविधा नहीं होती है। ऐसे में राज्य सरकार के वित्त विभाग के द्वारा लिया गया फैसला पहाड़ों में रहने वाले लोगों को काफी राहत पहुंचा सकती है। सरकार के अतिरिक्त वित्त सचिव अनिल खाकी ने सभी पीडीएस दुकानदारों को इस बात के निर्देश दिए  हैं। इस आदेश के बाद अब कोई भी व्यक्ति पास की दुकान में जाकर अपने एटीएम कार्ड के जरिए नकदी हासिल कर सकता है। 


ये भी पढ़ें - पत्नी से तलाक लेने का अजीबो-गरीब मामला, दाढ़ी और मर्दों जैसी आवाज बनी वजह

यहां बता दें कि इस तरह की सुविधा शुरू करने के पीछे सरकार का मकसद बैंकिंग सेवाओं को दूर-दराज इलाकों तक पहुंचाने की भी है। फिलहाल पीओएस मशीनों का इस्तेमाल सस्ते राशन की दुकानों पर किया जा रहा है। यह प्रक्रिया पूरी तरह से सुरक्षित होगी। बैंकों की ओर से तैनात बैंक मित्र (एजेंट) के पास जाकर भी उपभोक्ता पैसे का लेन-देन कर सकते हैं। पैसों के लेन-देन में किसी तरह की गड़बड़ी न हो इसके लिए पैसे जमा करने या निकालने की बाकायदा रसीद भी दी जाएगी। आपके मोबाइल पर इसकी सूचना भी आएगी। अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त अनिल खाची ने प्रदेश की सभी 3243 पंचायतों में बैंक मित्रों के नेटवर्क  के विस्तार पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि हर क्षेत्र में बैंक शाखा खोलना संभव नहीं है। ऐसे में ज्यादा से ज्यादा बैंक मित्र बनाकर बैंकिंग सेवाओं को विस्तार दिया जाएगा। 

Todays Beets: