Saturday, May 25, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

भाजपा ने ओडिशा में किसानों की आत्महत्या के लिए सरकार को बताया जिम्मेदार, कृषि की अनदेखी का आरोप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भाजपा ने ओडिशा में किसानों की आत्महत्या के लिए सरकार को बताया जिम्मेदार, कृषि की अनदेखी का आरोप

भुवनेश्वर। ओडिशा भाजपा इकाई ने राज्य में किसानों की आत्महत्या के लिए राज्य सरकार को दोषी ठहराया है। भाजपा राज्य इकाई के प्रमुख बसंत पांडा ने संवाददाताओं से कहा कि सरकार आसान ऋण नहीं मुहैया करा रही है इस कारण किसान महाजनों से काफी ऊंचे ब्याज दर पर ऋण लेते हैं और नहीं चुका पाने की वजह से आत्महत्या कर लेते हैं। बता दें कि बसंत पांडा ने सरकार पर कृषि की अनदेखी करने का आरोप लगाया। 

गौरतलब है कि भाजपा नेता ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा, ‘फसल खराब होने के कारण कई किसान ऋण चुकाने में असफल रहते हैं और कर्ज से दबे होने के करने वे आत्महत्या के लिए विवश हो जाते हैं।’ उन्होंने कहा कि सरकार किसानों को खाद, बीज और सिंचाई जैसी सुविधाओं के बारे में जानकारी उपलब्ध कराने में भी ‘विफल’ रही है। उन्होंने कहा कि किसानों को उनके उत्पादों के लिए केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) भी नहीं दिया जा रहा है।

ये भी पढ़ें - राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष का मंदिर पर बड़ा बयान, कहा-दिसंबर से शुरू हो जाएगा निर्माण


यहां बता दें कि भाजपा इकाई के नेता बसंत पांडा ने कहा कि प्रदेश सरकार कृषि क्षेत्र की ओर खास ध्यान नहीं दे रही है। उन्होंने भाजपा शासित दूसरे राज्यों का उदाहरण देते हुए कहा कि सरकार को यहां भी पीड़ित किसानों को मुआवजा राशि देने के साथ ब्याज मुक्त ऋण देना चाहिए।  

 

Todays Beets: