Thursday, January 18, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

सुरक्षा प्रमाण पत्र जमा नहीं करने वाले गुरुग्राम के स्कूलों पर गिरेगी गाज, 135 स्कूलों पर होगी पुलिस कार्रवाई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सुरक्षा प्रमाण पत्र जमा नहीं करने वाले गुरुग्राम के स्कूलों पर गिरेगी गाज, 135 स्कूलों पर होगी पुलिस कार्रवाई

गुरुग्राम। गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुए प्रद्युम्न हत्याकांड के बाद जिला प्रशासन स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर काफी अलर्ट हो गई है। सुरक्षा प्रमाण पत्र जमा न कराने वाले 135 स्कूलों के खिलाफ पुलिस आयुक्त ने कार्रवाई के आदेश्ज्ञ दिए हैं। इस घटना के बाद जिले के सभी स्कूलों को सुरक्षा प्रमाण पत्र जमा कराने के आदेश दिए गए लेकिन सिर्फ 223 स्कूलों ने ही यह प्रमाणपत्र जमा कराए हैं।

सुरक्षा प्रमाण पत्र जमा नहीं कराए

गौरतलब है कि रेयान इंटरनेशनल स्कूल गुरुग्राम में हुए दर्दनाक प्रद्युम्न हत्याकांड के बाद जिला प्रशासन की तरफ से सभी स्कूलों को सुरक्षा प्रमाण पत्र जमा कराने के आदेश दिए गए थे लेकिन कई स्कूलों ने इसकी अनदेखी की। अब गुरुग्राम के डिप्टी पुलिस आयुक्त विनय प्रताप सिंह ने ऐसे 135 निजी स्कूलों के खिलाफ पुलिस को सख्त कदम उठाने का आदेश दिया है, जिसने सुरक्षा मानकों के दिशानिर्देशों से जुड़े प्रमाण पत्र जमा नहीं कराए हैं। 

ये भी पढ़ें - सुप्रीम कोर्ट ने कश्मीरी पंडितों को दिया बड़ा झटका, हत्याकांड की दोबारा जांच की याचिका की खारिज


आईपीसी की धारा 188 के तहत केस दर्ज

आपको बता दें कि प्रद्युम्न हत्याकांड के बाद जिला प्रशासन ने सभी स्कूलों को 15 दिनों के अंदर सुरक्षा प्रमाणपत्र जमा करने को कहा था। समयावधि को 15 दिनों के लिए बढ़ाने के बाद भी स्कूलों ने इसमें दिलचस्पी नहीं दिखाई। इसके बाद अब पुलिस ने उनके खिलाफ आईपीसी 188 के तहत केस दर्ज करने के लिए गुरुग्राम पुलिस को निर्देश दे दिए गए। यहां यह भी बता दें कि उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने धारा 144 के तहत आदेश दिए थे कि सभी निजी स्कूल आठ बिंदुओं पर सर्टिफिकेट जिला शिक्षा अधिकारी के पास जमा कराएं। उन्होंने कहा था कि स्कूल प्रबंधन अपने यहां स्कूल सुरक्षा कमेटी बनाए जिसमें बच्चों के घर से 2 लोग शामिल हों।  स्कूल प्रबंधन अपने यहां फायर सेफ्टी इक्वीप्मेंट की चालू हालत सुनिश्चित करें तथा फायर सेफ्टी सर्टिफिकेट लेकिन ज्यादातर स्कूलों ने ऐसा नहीं किया।

 

Todays Beets: