Saturday, March 23, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

हैदराबाद की सड़कों पर अब नहीं दिखेंगे भिखारी, पुलिस ने सार्वजनिक जगहों पर भीख मांगने पर लगाया प्रतिबंध

अंग्वाल न्यूज डेस्क
हैदराबाद की सड़कों पर अब नहीं दिखेंगे भिखारी, पुलिस ने सार्वजनिक जगहों पर भीख मांगने पर लगाया प्रतिबंध

हैदराबाद। सड़कों और चैराहों पर लगने वाले लगने वाले वेवजह जाम औद दुर्घटनाओं के मद्देनजर आंध्रप्रदेश पुलिस ने सार्वजनिक जगहों पर भीख मांगने पर प्रतिबंध लगा दिया है। ऐसा बताया जा रहा है कि हैदराबाद में होने वाले ग्लोबल आन्त्रप्रोन्योरशिप समिट (जीईएस) को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। आंध्र प्रदेश के पुलिस कमिश्नर एम महेन्द्र रेड्डी ने बताया कि अगर कोई भी भिखारी सार्वजनिक जगहों पर भीख मांगता हुआ दिखाई देगा तो उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी। 

भीख मांगने वालों की खैर नहीं 

गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश पुलिस का कहना है कि व्यस्त ट्रैफिक के बीच सड़कों  पर भीख मांगने वालों के कारण आम लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है वहीं दूसरी तरफ ये सड़क दुर्घटनाओं के कारण भी बनते हैं। लोगों की तरफ से इसके खिलाफ कई बार पुलिस को शिकायत की गई है। पुलिस कमिश्नर की तरफ से जारी किए गए नोटिस में कहा गया है कि अगर कोई भी भिखारी सार्वजनिक जगहों पर भीख मांगता हुआ दिखाई देगा तो उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी। 


ये भी पढ़ें - पूर्व रक्षामंत्री पर्रिकर ने पूछा- नौसेना मुख्यालय दिल्ली के बजाए ऐसे स्थान क्यों नहीं जहां स...

पहले भी हुआ नोटिस जारी

आपको बता दें कि हैदराबाद में जल्द ही ग्लोबल आन्त्रप्रोन्योरशिप समिट (जीईएस) का आयोजन होने वाला है। इसके लिए कई देशों के लोगों के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका भी शामिल होने वाली हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि पुलिस की तरफ से इसे देखते हुए ही यह फैसला लिया गया है। यहां बता दें कि हैदराबाद में कई साल पहले भी ऐसा ही एक नोटिस जारी किया गया था। उस समय अमेरिका के तात्कालिक राष्ट्रपति बिल क्लिंटन हैदराबाद आए थे और उस वक्त भी सभी भिखारियों को सड़कों से हटा दिया गया था। 

Todays Beets: