Tuesday, August 14, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

हैदराबाद की सड़कों पर अब नहीं दिखेंगे भिखारी, पुलिस ने सार्वजनिक जगहों पर भीख मांगने पर लगाया प्रतिबंध

अंग्वाल न्यूज डेस्क
हैदराबाद की सड़कों पर अब नहीं दिखेंगे भिखारी, पुलिस ने सार्वजनिक जगहों पर भीख मांगने पर लगाया प्रतिबंध

हैदराबाद। सड़कों और चैराहों पर लगने वाले लगने वाले वेवजह जाम औद दुर्घटनाओं के मद्देनजर आंध्रप्रदेश पुलिस ने सार्वजनिक जगहों पर भीख मांगने पर प्रतिबंध लगा दिया है। ऐसा बताया जा रहा है कि हैदराबाद में होने वाले ग्लोबल आन्त्रप्रोन्योरशिप समिट (जीईएस) को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। आंध्र प्रदेश के पुलिस कमिश्नर एम महेन्द्र रेड्डी ने बताया कि अगर कोई भी भिखारी सार्वजनिक जगहों पर भीख मांगता हुआ दिखाई देगा तो उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी। 

भीख मांगने वालों की खैर नहीं 

गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश पुलिस का कहना है कि व्यस्त ट्रैफिक के बीच सड़कों  पर भीख मांगने वालों के कारण आम लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है वहीं दूसरी तरफ ये सड़क दुर्घटनाओं के कारण भी बनते हैं। लोगों की तरफ से इसके खिलाफ कई बार पुलिस को शिकायत की गई है। पुलिस कमिश्नर की तरफ से जारी किए गए नोटिस में कहा गया है कि अगर कोई भी भिखारी सार्वजनिक जगहों पर भीख मांगता हुआ दिखाई देगा तो उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी। 


ये भी पढ़ें - पूर्व रक्षामंत्री पर्रिकर ने पूछा- नौसेना मुख्यालय दिल्ली के बजाए ऐसे स्थान क्यों नहीं जहां स...

पहले भी हुआ नोटिस जारी

आपको बता दें कि हैदराबाद में जल्द ही ग्लोबल आन्त्रप्रोन्योरशिप समिट (जीईएस) का आयोजन होने वाला है। इसके लिए कई देशों के लोगों के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका भी शामिल होने वाली हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि पुलिस की तरफ से इसे देखते हुए ही यह फैसला लिया गया है। यहां बता दें कि हैदराबाद में कई साल पहले भी ऐसा ही एक नोटिस जारी किया गया था। उस समय अमेरिका के तात्कालिक राष्ट्रपति बिल क्लिंटन हैदराबाद आए थे और उस वक्त भी सभी भिखारियों को सड़कों से हटा दिया गया था। 

Todays Beets: