Monday, January 21, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

चुनाव से पहले भाजपा नेता का विवादित बयान, हिंदू-मुस्लिम ध्रुवीकरण का आरोप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
चुनाव से पहले भाजपा नेता का विवादित बयान, हिंदू-मुस्लिम ध्रुवीकरण का आरोप

नई दिल्ली। चुनाव से पहले राजस्थान के बांसवाड़ा से भाजपा के विधायक और पंचायतीराज राज्यमंत्री धन सिंह रावत ने एक विवादित बयान दिया है। एक चुनावी सभा में कहा, ‘‘राजस्थान में जितने भी हिंदू हैं उन सभी हिंदुओं को एकजुट भाजपा को वोट देना है। अगर कांग्रेस के साथ जुड़ कर सारे मुस्लिम मतदान कर सकते हैं तो सारे हिंदू भाजपा के साथ जा सकते हैं और प्रचंड बहुमत से भाजपा को जिता सकते हैं।’’ चुनाव से पहले दिए गए उनके इस बयान को हिंदू-मुस्लिम ध्रुवीकरण करने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है। 

गौरतलब है कि राजस्थान के पंचायतीराज राज्य मंत्री ने यह बयान शुक्रवार को दिया था लेकिन अब यह सामने आया है। बता दें कि धन सिंह रावत कुछ महीनों पहले भी सुर्खियों में आए थे जब उनके बेटे राजा का बीच सड़क में खुलेआम एक कार सवार को बेरहमी से पीटने का वीडियो वायरल हुआ था। प्रशासन की ओर से मामले में ढिलाई बरतने पर काफी किरकिरी हुई थी। 


ये भी पढ़ें - इंडोनेशिया में 188 यात्रियों को ले जा रहा विमान हुआ क्रैश, समुद्र में मिला मलबा

यहां बता दें कि बांसवाड़ा के विधायक पहले भी अपने विवादित बयानों की वजह से चर्चा में रहे हैं। पिछले साल धन सिंह रावत ने जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक में अधिकारी को मुर्गा बनाने की चेतावनी दी थी। उससे पहले उन्होंने जिला परिषद की साधरण बैठक में विकास अधिकारियों के लिए कहा था कि ये अरबी घोड़े हैं इन्हें चाबुक मारो। 

Todays Beets: