Friday, July 20, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

BHU को मिली पहली महिला चीफ प्रॉक्टर, रोयना सिंह को दी गई जिम्मेदारी

अंग्वाल संवाददाता
BHU को मिली पहली महिला चीफ प्रॉक्टर, रोयना सिंह को दी गई जिम्मेदारी

वाराणसी । छात्राओं की सुरक्षा के मुद्दे को लेकर बीएचयू में पिछले दिनों जमकर बवाल मचा। काशी की धरती पर हुई इस हिंसा की आंच दिल्ली तक पहुंची गई, जिसके बाद BHU के कुलपति के जहां अधिकार छीन लिए गए, वहीं चीफ प्रॉक्टर ओएन सिंह ने अपना इस्तीफा दे दिया। इस सब के बाद छात्राओं की सुरक्षा के मद्देनजर पहली बार BHU में महिला चीफ प्रॉक्टर नियुक्ति की गई है। इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज की प्रोफसर रोयना सिंह को नया चीफ प्रॉक्टर बनाया गया है। ऐसा पहली बार हो रहा है कि बीएचयू में किसी महिला को चीफ प्रॉक्टर बनाया गया है। 


बता दें 23 सितम्बर की रात अपनी सुरक्षा की मांग को लेकर धरने पर बैठीं छात्राओं और वहां मौजूद पुलिस वालों के बीच झड़पें हुई, जिसने बाद में हिंसक रूप ले लिया था। आरोप हैं कि पुलिस ने इन दौरान छात्राओं पर भी लाठीचार्ज किया, जिसमें कई युवतियां घायल हुईं। इस सब के बाद सरकार ने इस मामले की एक रिपोर्ट तलब की, जिसमें बीएचयू प्रशासन को इस सब का जिम्मेदार माना गया। इसके बाद कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी को दिल्ली तलब किया। वहीं चीफ प्रॉक्टर ओएन सिंह ने पूरे घटनाक्रम की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा दिया । 

Todays Beets: