Monday, November 20, 2017

Breaking News

   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||   अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित नहीं करेगा चीन, प्रस्ताव पर रोक लगाने के संकेत     ||   दुनिया की सबसे लंबी सुरंग बनाकर चीन अब ब्रह्मपुुत्र नदी का पानी रोकने का बना रहा है प्लान     ||   पीएम मोदी को शीला दीक्षित ने दिया जवाब- हमने नहीं भुलाया पटेल का योगदान    ||   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||

योगी राज में बदमाशों के साथ 420 एंकाउंटर, 15 कुख्यात ढेर-850 सलाखों के पीछे

अंग्वाल न्यूज डेस्क
योगी राज में बदमाशों के साथ 420 एंकाउंटर, 15 कुख्यात ढेर-850 सलाखों के पीछे

लखनऊ । उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के आते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि अब राज्य में कानून का राज होगा। हालांकि अपराध थमने का नाम तो नहीं ले रहे हैं, लेकिन अपराधियों और बदमाशों के खिलाफ सख्ती और कार्रवाई का असर भी देखने को मिला है। बता दें कि पिछले 6 महीने में पुलिस ने मुठभेड़ में 15 इनामी बदमाशों को ढेर कर दिया है। वहीं करीब 80 अपराधी मुठभेड़ में घायल हुए, जिन्हें दबोचा गया। इस प्रकार करीब 850 ऐसे कुख्यात बदमाश हैं, जिन्हें सलाखों कें पीछे भेज दिया गया है। हालांकि सरकार के आगे अभी भी राज्य में कानून व्यवस्था को दुरुस्त रखना एक बड़ी चुनौती है। 

ये भी पढ़ें- भारत की इस्लामिक देशों को हिदायत, कश्मीर मामले में किसी बाहरी को दखल देने का हक नहीं

बता दें कि यूपी में सीएम योगी ने 19 मार्च को पद की शपथ ली थी, जिसके बाद से अब तक यूपी पुलिस और बदमाशों के बीच करीब 420 मुठभेड़ हुई है। जिसमें 15 कुख्यात बदमाश समेत कई बदमाश मारे गए हैं। इनमें सबसे ज्यादा मेरठ जोन में मारे गए हैं। प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, पिछले कुछ महीनों के दौरान शामली क्षेत्र में में 4, आजमगढ़ में 3, मुजफ्फरनगर और सहारनपुर में 2-2 अपराधी मारे गए है। जबकि अकेले मेरठ जोन में सबसे ज्यादा 9 बदमाश मारे गए हैं। इतना ही नहीं लखनऊ में भी एक मुठभेड़ में एक इनामी बदमाश मारा गया है। हालांकि इस कार्रवाई के दौरान 88 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। 


ये भी पढ़ें- सुप्रीम कोर्ट ने स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा के मुद्दे पर केंद्र और राज्य सरकारों को दिया नोटिस, तीन सप्ताह में देना होगा जवाब

इतना ही नहीं योगी सरकार के कार्यकाल के दौरान अब तक 1106 अपराधी गिरफ्तार किए जा चुके हैं, जिसमें से 868 कुख्यात हैं। इनमें से 54 पर रासुका और 69 पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।सीएम योगी ने एक बार फिर साफ कर दिया है कि उनकी सरकार में दोषियों को नहीं छोड़ा जाएगा और निर्दोषों को नहीं छेड़ा जाएगा। असल में सरकार की ओर से काम करने की पूरी छूट मिलने के बाद से यूपी में अपराधियों पर धरपकड़ का काम जारी है।

Todays Beets: