Saturday, March 23, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

जम्मू भाजपा ने अपने ही नेता को जारी किया अवमानना का नोटिस, पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहने का आरोप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
जम्मू भाजपा ने अपने ही नेता को जारी किया अवमानना का नोटिस, पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहने का आरोप

जम्मू। भारतीय जनता पार्टी ने जम्मू कश्मीर के अपने निष्कासित पूर्व विधायक डाॅक्टर गगन भगत को प्रदेश भाजपा ने अवमानना नोटिस जारी किया है। एडवोकेट परिमोक्ष सेठ के जरिए प्रदेश अध्यक्ष रवींद्र रैना और महासचिव संगठन अशोक कौल ने पार्टी की सार्वजनिक छवि को खराब करने का आरोप लगाते हुए डाॅक्टर गगन भगत को कानूनी नोटिस जारी किया है। बता दें कि गगन भगत को उनके अनैतिक व्यवहार के कारण राज्य भाजपा ने अनुशासन समिति की सिफारिश के बाद 3 महीने के लिए पार्टी से निलंबित कर दिया था।

गौरतलब है कि प्रदेश भाजपा की ओर से कहा गया कि 12 दिसंबर को डाॅक्टर गगन भगत के द्वारा प्रेस विज्ञप्ति जारी कर पार्टी पर बेबुनियाद आरोप लगाए गए थे। अपने व्यवहार में सुधार लाने के बजाए वे पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहे। इसके बाद भाजपा ने डॉक्टर गगन भगत को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया। 


ये भी पढ़ें - उत्तराखंड में एक साथ हुए कई हादसे, दून में तेज रफ्तार बाईक सवार युवक का सिर धड़ से हुआ अलग

यहां बता दें कि गगन भगत ने अभद्र और आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग करते हुए प्रदेश अध्यक्ष रवींद्र रैना और महासचिव संगठन अशोक कौल पर उनकी सार्वजनिक प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाने के बेबुनियाद आरोप लगाए थे। पार्टी की ओर से उन्हें नोटिस जारी कर एक सप्ताह के अंदर उनसे रिपोर्ट मांगी है। ऐसा नहीं होने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। 

Todays Beets: