Sunday, February 24, 2019

Breaking News

   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||

खेतों में पराली जलाने वाले हो जाएं सावधान, अब कानूनी कार्रवाई के साथ लगेगा जुर्माना

अंग्वाल न्यूज डेस्क
खेतों में पराली जलाने वाले हो जाएं सावधान, अब कानूनी कार्रवाई के साथ लगेगा जुर्माना

चंडीगढ़। हरियाणा के खेतों में अब पराली जलाने वालों की खैर नहीं होगी। खेतों में पराली जलाने वालों कह निगरानी अब सरकार सेटेलाइट के जरिए रखेगी। यदि खेतों में पराली जलाते हुए पकड़े गए तो कानूनी कार्रवाई के साथ ही जुर्माना भी लगाया जाएगा। यही नहीं अगर किसी किसान ने बार-बार खेतों में पराली जलाई तो उसकी जमीन पर सरकार कब्जा कर लेगी। किसी भी किसान द्वारा जैसे ही खेत में पराली जलाई जाएगी, सरकार व प्रशासन के पास उस किसान के खेत की जानकारी उपलब्ध हो जाएगी जिससे प्रशासन द्वारा तुरंत मौके पर जाकर पराली जलाने वाले किसान के खिलाफ कार्रवाई करेगी। 

गौरतलब है कि पिछले दिनों पराली जलाने के बाद दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण काफी बढ़ गया था जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट और एनजीटी ने दिल्ली और पड़ोसी राज्यों को सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए थे। किसानों के द्वारा खेतों में लगातार पराली जलाने की शिकायत मिलने पर अब सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। सरकार की ओर से किसानों को पराली न जलाने के लिए जागरूकता अभियान भी चलाया गया है लेकिन किसान मान नहीं रहे हैं। 

ये भी पढ़ें - आतंकियों की धमकी पर घाटी के लोगों का हौंसला भारी, बड़ी संख्या में मतदान करने निकले लोग


यहां बता दें कि अब इन घटनाओं पर नजर रखने के लिए प्रदेश सरकार ने चंडीगढ़ में सेटेलाइट लगाई है। यह पूरे प्रदेश में पराली जलाने वालों पर नजर रखेगी।  जिस भी क्षेत्र में पराली जलाई जाएगी, उसी जिला मुख्यालय पर प्रशासनिक अधिकारियों को इस बात की सूचना मिल जाएगी, उसके बाद अधिकारी मौके पर जाकर किसान के खिलाफ न सिर्फ कार्रवाई करेंगे बल्कि मौके पर ही जुर्माना वसूला जाएगा। 

 

Todays Beets: