Wednesday, January 23, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

महाराष्ट्र में शिक्षकों ने सरकार के सामने रखी अजीबोगरीब मांग, एक जगह तबादला करोे नहीं तो तलाक दिलाओ

अंग्वाल न्यूज डेस्क
महाराष्ट्र में शिक्षकों ने सरकार के सामने रखी अजीबोगरीब मांग, एक जगह तबादला करोे नहीं तो तलाक दिलाओ

मुंबई। महाराष्ट्र में शिक्षकों ने सरकार को एक अजीब स्थिति में लाकर खड़ा दिया है। बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र में ऐसे शिक्षक पति-पत्नी की एक बड़ी तादाद है जो सालों से एक-दूसरे से काफी दूर रहकर बच्चों को शिक्षा प्रदान कर रहे हैं। अब इन शिक्षकों ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर वह उनका तबादला एक जगह नहीं कर सकते हैं तो उनका तलाक करवा दें। शिक्षकों ने इसके लिए सरकार को दिवाली तक का समय दिया है।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र सरकार में ऐसा नियम है कि अगर पति पत्नी दोनों ही शिक्षक हैं तो उनका तबादला 30 किलोमीटर के अंदर पड़ने वाले स्कूलों में ही किया जा सकता है। इस सरकारी नियम का इन शिक्षकों के मामले में कोई उपयोग नहीं हो रहा है। इसी का नतीजा है कि आज हजारों शिक्षक पति पत्नी 15 सालों से ज्यादा समय से एक दूसरे से 200 किलोमीटर दूर रहकर बच्चों को शिक्षा दे रहे हैं। 


ये भी पढ़ें- भाजपा पूर्व प्रधानमंत्री को देगी विशेष श्रद्धांजलि, 17 से 25 सितंबर तक मनाएगी सेवा सप्ताह

यहां बता दें कि सालों से एक-दूसरे से दूर रह रहे इन शिक्षकों ने अध्यापकों की संस्था ‘महाराष्ट्र राज्य अंतर जिला पति-पत्नी एकत्रीकरण संघर्ष समिति’ के बैनर तले ग्रामीण विकास मंत्री पंकजा मुंडे से मिलकर अपनी बातें रखी हैं। इन शिक्षकों ने प्रदेश सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर वे एक जगह तबादला नहीं कर सकते हैं तो उनका तलाक करवा दें। उन्होंने सरकार को इसके लिए दिवाली तक का समय देते हुए कहा कि इसके बाद वे खुद ही तलाक के लिए आवेदन कर देंगे। 

Todays Beets: