Monday, December 17, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

आखिरकार पटना में ‘प्रकट’ हुए तेज प्रताप, तलाक की अर्जी वापस लेने से किया इंकार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आखिरकार पटना में ‘प्रकट’ हुए तेज प्रताप, तलाक की अर्जी वापस लेने से किया इंकार

पटना। बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव गुरुवार को पटना पहुंचे। वे पटना के सिविल कोर्ट में अपनी पत्नी ऐश्वर्या से तलाक वाले मामले में होने वाली सुनवाई के लिए पटना पहुंचे थे। कोर्ट से बाहर निकलने के बाद तेजप्रताप ने कहा कि वे तलाक की अर्जी पर अड़े हुए हैं। गौर करने वाली बात है कि अपनी शादी के महज 6 महीने बाद ही तेजप्रताप ने पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक की अर्जी कोर्ट में दी थी। उनके इस कदम के बाद पूरे लालू परिवार में हड़कंप मच गया था। 

गौरतलब है कि अपनी पत्नी पर प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए तेज प्रताप ने पटना के सिविल कोर्ट में तलाक की अर्जी दी थी। इसके बाद से ही उन्होंने पटना से दूरी बनाई हुई थी। कुछ दिनों पहले वे गया के होटल से अचानक ही गायब हो गए थे और दोस्तों के साथ वाराणसी पहुंच गए थे। वहां काशी विश्वनाथ की पूजा-अर्चना करने के बाद वे वृन्दावन पहुंच गए थे और काफी समय से वहीं रह रहे थे। 

ये भी पढ़ें - सुप्रीम कोर्ट ने लगाई मोदी सरकार को फटकार ,  आपराधिक मामलों के स्पीडी ट्रॉयल को लेकर कही ये बड़ी बात


यहां बता दें कि कोर्ट से बाहर निकलने के बाद तेज प्रताप ने कहा कि तलाक की अर्जी वापस लेने के लिए परिवार की ओर से काफी दवाब था लेकिन वे अपने फैसले पर अड़े हुए हैं और अपी लड़ाई से पीछे नहीं हटेंगे। आपको बता दें कि तलाक की अर्जी के बाद लालू और उनके समधी के बीच भी दूरियां नजर आने लगी हैं। पिछले दिनों पार्टी की बैठक में चंद्रिका राय शामिल नहीं हुए थे। 

 

Todays Beets: