Friday, April 26, 2019

Breaking News

   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||

आखिरकार पटना में ‘प्रकट’ हुए तेज प्रताप, तलाक की अर्जी वापस लेने से किया इंकार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आखिरकार पटना में ‘प्रकट’ हुए तेज प्रताप, तलाक की अर्जी वापस लेने से किया इंकार

पटना। बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव गुरुवार को पटना पहुंचे। वे पटना के सिविल कोर्ट में अपनी पत्नी ऐश्वर्या से तलाक वाले मामले में होने वाली सुनवाई के लिए पटना पहुंचे थे। कोर्ट से बाहर निकलने के बाद तेजप्रताप ने कहा कि वे तलाक की अर्जी पर अड़े हुए हैं। गौर करने वाली बात है कि अपनी शादी के महज 6 महीने बाद ही तेजप्रताप ने पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक की अर्जी कोर्ट में दी थी। उनके इस कदम के बाद पूरे लालू परिवार में हड़कंप मच गया था। 

गौरतलब है कि अपनी पत्नी पर प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए तेज प्रताप ने पटना के सिविल कोर्ट में तलाक की अर्जी दी थी। इसके बाद से ही उन्होंने पटना से दूरी बनाई हुई थी। कुछ दिनों पहले वे गया के होटल से अचानक ही गायब हो गए थे और दोस्तों के साथ वाराणसी पहुंच गए थे। वहां काशी विश्वनाथ की पूजा-अर्चना करने के बाद वे वृन्दावन पहुंच गए थे और काफी समय से वहीं रह रहे थे। 

ये भी पढ़ें - सुप्रीम कोर्ट ने लगाई मोदी सरकार को फटकार ,  आपराधिक मामलों के स्पीडी ट्रॉयल को लेकर कही ये बड़ी बात


यहां बता दें कि कोर्ट से बाहर निकलने के बाद तेज प्रताप ने कहा कि तलाक की अर्जी वापस लेने के लिए परिवार की ओर से काफी दवाब था लेकिन वे अपने फैसले पर अड़े हुए हैं और अपी लड़ाई से पीछे नहीं हटेंगे। आपको बता दें कि तलाक की अर्जी के बाद लालू और उनके समधी के बीच भी दूरियां नजर आने लगी हैं। पिछले दिनों पार्टी की बैठक में चंद्रिका राय शामिल नहीं हुए थे। 

 

Todays Beets: