Saturday, September 23, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

तीन तलाक की जंग जीतने वाली मुस्लिम महिलाओं को समाज से सुनने पड़ रहे हैं अपशब्द...

अंग्वाल संवाददाता
तीन तलाक की जंग जीतने वाली मुस्लिम महिलाओं को समाज से सुनने पड़ रहे हैं अपशब्द...

नई दिल्ली। तीन तलाक के खिलाफ लड़ाई लड़ने वाली इशरत को जहां  एक ऐतिहासिक जीत हासिल हुई है। तो वहीं दूसरी ओर उन्हें सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद समाज और अपने रिश्तेदारों से ताने सुनने को मिल रहे हैं। उनके पड़ोसी उन्हें गंदी औरत और इस्लाम विरोधी बता रहे हैं। इशरत ने इस बात का जिक्र करते हुए कहा कि अब बस मुझ मैं और हिम्मत नहीं बच्ची है। मैं अपना समय अपनी बच्चियों के साथ बीताना चाहती हूं, लेकिन रिश्तेदारों व समाज के बयानों से मैं बहुत परेशान हूं। मर्दे मुझे इस्लाम विरोधी कह रहे हैं। इतना ही नहीं , इशरत का केस लड़ने वाली वकील  नाजिया इलाही खान को भी सोशल मीडिया पर उल्टे-सीटे बयान सुनने पड़ रहे हैं।

यह भी पढ़े- टिकट बुक कराने के साथ ही एयरपोर्ट के लिए बुक करा सकेंगे Ola- Uber कैब


आपको बता दें कि 2004 से इशरत पश्चिम बंगाल में हावड़ा के पास रहती हैं। इशरत जिस घर में रहती है वह उनके पति ने दहेज के पैसों से खरीदा था। उनके पति ने मुंबई से फोन पर उन्हें वर्ष 2014 में तलाक दे दिया था। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक के खिलाफ याचिका दर्ज की गई थी, जिसपर बीते दो दिन पहले सुप्रीम कोर्ट ने फेसले लेते हुए तीन तलाक को असवैंधानिक करार दिया है। साथ ही केंद्र सरकार को 6 माह के अंदर  नया कानून बनाने का आदेश दिया है। फैसला आने के बाद ही लोगों  की बयानबाजी लगातार जारी है।  

यह भी पढ़े- नासा आसमान में करेगा करिश्मा, बनाए जाएंगे चमकते कृत्रिम बादल 

Todays Beets: