Monday, May 27, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

मौत के साए में लोग , इंडोनेशिया में फिर सुनामी की आशंका, ज्वालामुखी से निकल रही गहरीली गैस

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मौत के साए में लोग , इंडोनेशिया में फिर सुनामी की आशंका, ज्वालामुखी से निकल रही गहरीली गैस

नई दिल्ली । दुनिया में जलवायु परिवर्तन और ग्लोबल वार्मिंग जैसे शब्दों की विभिषिका इन दिनों इंडोनेशिया के लोग देख रहे हैं। पिछले दिनों इंडोनेशिया के क्राकाटोआ के आसपास आई सुनामी में जहां 400 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है, वहीं हजारों लोग इस सुनामी से प्रभावित हुई हैं। इस सब के बीच एक बार फिर से इस क्षेत्र में दोबारा से सुनामी की आशंका जताई जा रही है, जिसके मद्देनजर लोगों पर मौत का साया मंडरा रहा है। इससे इतर डराने वाली यह है कि जिस अनाक क्राकाटोआ ज्वालामुखी के फटने से पिछले दिनों सुनामी आई थी वो अभी भी सक्रिय है। इस ज्वालामुखी से अभी भी बड़ी मात्रा में राख  निकल रही है। इस धुएं के गुबार ने क्षेत्र से गुजरने वाली फ्लाइटों का रास्ता तक बदल दिया है। इस सब के चलते फिर से आशंका जताई जा रही है सुनामी की लहरें एक बार फिर से कहर बरपा सकती हैं।

स्थानीय प्रशासन की ओर से जारी किए अलर्ट के मुताबिक , अभी भी क्राकाटोआ ज्वालामुखी अभी भी सक्रिय है। प्रशासन का कहना है कि इस समय इस ज्वालामुखी से जो राख निकल रही है, वह पहले से भिन्न है। इतना ही इस ज्वालामुखी से गर्मी और जहरीली गैस वातावरण में  निकल रही हैं। 


इतना ही नहीं अनाक क्राकाटोआ के आसपास के पांच किलोमीटर तक किसी भी आने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। स्थानीय निवासियों को तट से दूर रहने के लिए कहा गया है। हालांकि पिछली सुनामी से घबराए लोग अभी अपने घरों में जाने को राजी नहीं हैं लेकिन कुछ लोग अपने सामान और घर को देखने के लिए प्रभावित क्षेत्र में आ रहे हैं। 

बता दें कि गत शनिवार को आई सुनामी में 430 लोगों की मौत हो गई है, जबकि करीब 1500 लोग घायल हुए हैं। करीब 22 हजार लोग अपने घरों को छोड़कर शिविरों में रह रहे हैं। 

Todays Beets: