Sunday, February 24, 2019

Breaking News

   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||

केरल के बाद तमिलनाडू और पुदुच्चेरी में भी भारी बारिश की चेतावनी, 3 दिन हैं भारी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
केरल के बाद तमिलनाडू और पुदुच्चेरी में भी भारी बारिश की चेतावनी, 3 दिन हैं भारी

नई दिल्ली। भारत के दक्षिणी राज्य में एक बार फिर से मानसून का कहर टूट सकता है। मौसम विभाग ने गुरुवार को कहा कि दक्षिण-पूर्वी अरब सागर पर शुक्रवार को कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है और यह तेज चक्रवाती तूफान का रूप ले सकता है। विभाग ने मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की चेतावनी दी है। मौसम विभाग के अधिकारी ने तमिलनाडू के साथ ही पुदुच्चेरी में भी अगले 3 दिनों तक भारी बारिश होने की संभावना जताई है। 

गौरतलब है कि कुछ समय पहले दक्षिणी राज्य केरल पर मौसम ने कहर बरपाया था। इसकी वजह से राज्य में भारी तबाही मची थी और सैंकड़ों लोगों की जान चली गई थी। लाखों लोग बेघर हो गए थे जिनके पुनर्वास का काम अभी भी जारी है। बता दें कि मौसम विभाग ने आज ही केरल में एक बार फिर से भारी बारिश और भूस्खलन की संभावना जताई है। पूरे राज्य में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है। 


ये भी पढ़ें - दशहरे के बाद अयोध्या कूच करेंगे उद्धव, मंदिर निर्माण को लेकर भाजपा पर साधेंगे निशाना 

यहां बता दें कि केरल के साथ ही मौसम विभाग ने गुरुवार को तमिलनाडू में भी भारी बारिश की चेतावनी जारी कर लोगों की मुसीबतों में इजाफा कर दिया। मौसम विभाग के अधिकारी बालाचंद्रन ने बताया कि मछुआरों को 5 से 8 अक्तूबर के बीच दक्षिण केरल तट, लक्षद्वीप क्षेत्र, कोमोरिन क्षेत्र, दक्षिण-पूर्वी अरब सागर और मध्य अरब सागर में समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है। उन्होंने कहा, ‘‘जो लोग गहरे समुद्र में चले गए हैं उन्हें 5 अक्टूबर तक समुद्र तट पर लौट जाने की सलाह दी जाती है।’’ 

Todays Beets: