Monday, December 17, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

कौन बनेगा राजस्थान का सीएम!, एग्जिट पोल से उत्साहित कांग्रेसी नेताओं के खेमों में गुटबाजी तेज

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कौन बनेगा राजस्थान का सीएम!, एग्जिट पोल से उत्साहित कांग्रेसी नेताओं के खेमों में गुटबाजी तेज

नई दिल्ली। राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए शुक्रवार को मतदान हो चुका है। इसके परिणाम 11 दिसंबर को आएंगे कि सरकार कौन सी पार्टी की बनेगी। हालांकि मतदान के बाद से टीवी चैनलों के द्वारा किए गए एग्जिट पोल में राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनती हुई दिखाई दे रही है। अब इस बात को लेकर राजनीति तेज हो गई है कि इस स्थिति में मुख्यमंत्री कौन बनेगा। राजस्थान की जनता की मानें तो पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को ही मौका दिया जाएगा लेकिन युवा नेता सचिन पायलट के खेमे ने भी अपनी कोशिशें तेज कर दी हैं। 

गौरतलब है कि टीवी चैनलांे के द्वारा दिखाए जा रहे एग्जिट पोल को देखकर कांग्रेस के नेता पूरी तरह से उत्साहित हैं कि प्रदेश में 5 सालों के बाद उनकी सरकार बनेगी। मुख्यमंत्री को लेकर अब दोनों नेताओं, अशोक गहलोत और सचिन पायलट के खेमे में राजनीति तेज हो गई है। हालांकि दोनों ही नेताओं ने आधिकारिक तौर पर कहा कि कोई भी सीएम बने वे मिलकर जनता के लिए काम करेंगे। 

ये भी पढ़ें - शिक्षक के तमाचे से फटा पहली क्लास के बच्चे के कान का पर्दा, स्कूल ने किया सस्पेंड


यहां बता दें कि राजस्थान की जनता तो अनुभवी नेता अशोक गहलोत को ही सीएम बनान चाहती है वहीं कुछ युवा सचिन पायलट को मुख्यमंत्री के तौर पर देखना चाहते हैं। अब राज्य में पार्टी के अंदरखाने इस बात को लेकर दोनों गुट के समर्थक सक्रिय हो गए हैं कि विधायक दल की बैठक में कौन किसका समर्थन करेगा। जयपुर जिला कांग्रेस के अध्यक्ष तो खुलकर सचिन पायलट का समर्थन करते हुए कहा कि जिस नेता ने 5 सालों तक मेहनत की है सीएम की कुर्सी उसे ही मिलना चाहिए। 

आपको बता दें कि बता दें कि इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के मुताबिक राजस्थान में भाजपा को करारी मात मिलती दिख रही है। सूबे की कुल 200 विधानसभा सीटों में कांग्रेस के खाते में 119 से 141 सीटें जाती दिख रही हैं। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में भाजपा को 55 से 72 सीटें मिल सकती हैं जबकि 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 163 सीटें हासिल हुई थीं।

Todays Beets: