Saturday, February 23, 2019

Breaking News

   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||

देवरिया में सामने आया मुजफ्फरपुर जैसा कांड, डीएम पर गिरी गाज, 2 अधिकारी निलंबित 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
देवरिया में सामने आया मुजफ्फरपुर जैसा कांड, डीएम पर गिरी गाज, 2 अधिकारी निलंबित 

लखनऊ। बिहार के मुजफ्फरपुर में बालिका गृह कांड के बाद अब यूपी के देवरिया में भी एक ऐसा ही कांड सामने आया है। यूपी के मुख्यमंत्री ने घटना पर सख्त कार्रवाई करते हुए देवरिया के डीएम सुजीत कुमार को हटा दिया है इसके साथ ही 2 अन्य अधिकारियों को निलंबित कर दिया है। बताया जा रहा है कि देवरिया के मां विंध्यवासिनी बालिका एवं महिला संरक्षण गृह की संचालिका और उसके पति को गिरफ्तार कर लिया गया है। गौर करने वाली बात है कि बिहार के मुजफ्फरपुर की बालिका गृह कांड पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए सोमवार को सीएम नीतीश कुमार ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा।

गौरतलब है कि देवरिया के मां विंध्यवासिनी बालिका एवं महिला संरक्षण गृह में कुल 42 छात्राएं पंजीकृत हैं लेकिन छापेमारी के दौरान वहां मात्र 24 छात्राएं ही मिलीं। इसे जिलाधिकारी की लापरवाही मानते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त कार्रवाई करते हुए देवरिया के डीएम सुजीत कुमार को फौरन हटा दिया। इसके साथ ही 2 अन्य अधिकारियों को भी निलंबित कर दिया है। 


ये भी पढ़ें - सुकमा के जंगल में सुरक्षाबलों ने 14 नक्सलियों को उतारा मौत के घाट, भारी मात्रा में हथियार भी बरामद

यहां बता दें कि बिहार के मुजफ्फरपुर की बालिका गृह में हुए यौन शोषण की घटना के बाद पूरे देश की बालिका गृह में सुरक्षा व्यवस्था और कड़ी कर दी गई है। मुजफ्फरपुर के कांड पर एक बार फिर से चुप्पी तोड़ते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। नीतीश कुमार ने तेजस्वी यादव द्वारा दिल्ली में किए गए धरना प्रदर्शन और कैंडल मार्च को ‘तमाशा’ करार दिया। तेजस्वी पर हमला करते हुए कहा कि ‘जिस पर खुद लड़की को छेड़ने का आरोप लगा हो वह कैंडल मार्च निकाल रहा है’। धरना प्रदर्शन पर कटाक्ष करते हुए कहा कि इतने संवेदनशील मुद्दे पर हंसते हुए बोलना उनकी गंभीरता को दिखाता है। 

Todays Beets: