Wednesday, December 19, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

आईपीएल फ्रेंचाइजी कोच्चि टस्कर्स ने जीता BCCI के खिलाफ केस, बोर्ड से मांगा 850 करोड़ का हर्जाना

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आईपीएल फ्रेंचाइजी कोच्चि टस्कर्स ने जीता BCCI के खिलाफ केस, बोर्ड से मांगा 850 करोड़ का हर्जाना

नई दिल्ली । IPL फ्रेंचाइजी कोच्चि टस्कर्स के लिए मंगलवार का दिन एक बड़ी खुशखबरी लेकर आया है। वर्ष 2011 में निलंबित की गई आईपीएल फ्रेंचाइजी कोच्चि टस्कर्स ने BCCI के खिलाफ आर्बिट्रेशन का केस जीत लिया है। कोर्ट के फैसले के बाद अब कोच्चि टस्कर्स ने BCCI से 850 करोड़ रुपये का हर्जाना मांगा है। वर्ष 2011 में बीसीसीआई ने कोच्चि टस्कर्स केरला को इसलिए निलंबित कर दिया था, क्योंकि यह फ्रेंचाइजी 156 करोड़ रुपए के सालाना भुगतान की बैंक गारंटी देने में नाकाम रही थी। बीसीसीआई के इस फैसले के खिलाफ फ्रेंचाइजी ने बांबे हाई कोर्ट में बीसीसीआई के खिलाफ आर्बिट्रेशन दायर की थी। 

ये भी पढ़ें- ISSF वर्ल्डकप: एयर पिस्टल में जीतू-हीना की जोड़ी ने देश को दिलाया गोल्ड मेडल 


बता दे कि रॉन्देवू स्पोर्ट्स वर्ल्ड ने 1550 करोड़ की रकम में कोच्चि टस्कर्स केरला फ्रेंचाइजी हासिल की थी, लेकिन वह एक सीजन ही खेल पाई थी। इसके बाद  फ्रेंचाइजी 156 करोड़ रुपये के सालाना भुगतान की बैंक गारंटी देने में नाकाम रही थी, जिसके चलते उसे निलंबित कर दिया गया था।

बहरहाल बांबे हाईकोर्ट से आर्बिट्रेशन का केस हारने के बाद आईपीएल चेयरमैन राजीव शुक्ला का कहना है कि अब कोच्चि टस्कर्स ने 850 रूपये मुआवजा मांगा है। हमने आईपीएल की संचालन परिषद की बैठक में इस पर चर्चा की। अब इस मामले को आमसभा की बैठक में रखा जाएगा। इसके बाद ही इस मामले में कोई ठोस निर्णय लिया जा सकेगा। 

Todays Beets: