Wednesday, January 17, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

विश्वनाथन आनंद ने लिया चार साल पुरानी हार का बदला, कार्लसन को हराकर जीती वर्ल्ड रैपिड चेस चैम्पियनशिप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
विश्वनाथन आनंद ने लिया चार साल पुरानी हार का बदला, कार्लसन को हराकर जीती वर्ल्ड रैपिड चेस चैम्पियनशिप

नई दिल्ली। दुनियाभर में अपने खेल से भारत का नाम रोशन करने वाले शतरंज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद ने रियाद में चल रहे वर्ल्ड रैपिड चेस चैंपियनशिप में दुनिया के नंबर 1 खिलाड़ी मैग्नस कार्लसन को मात देकर चैंपियनशिप अपने नाम कर ली है। यहां बता दें कि मैग्नस  कार्लसन ने साल 2013 में आनंद को हराकर यह खिताब अपने नाम किया था। आज आनंद से एक बार फिर से यह चैम्पियनशिप अपने नाम कर लिया है। आनंद की जीत पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें बधाई दी है।

राष्ट्रपति ने दी बधाई

गौरतलब है कि साल 2013 में कार्लसन ने विश्वनाथन आनंद को हराकर उनसे यह खिताब छीना था। अब चार सालों के बाद आनंद ने एक बार फिर से कार्लसन का मात देकर अपनी हार का बदला ले लिया है। आनंद की जीत पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी उन्हें बधाई दी है। राष्ट्रपति ने ट्विटर पर लिखा, ‘विश्व रैपिड शतरंज चैंपियनशिप जीतने के लिए विश्वनाथन आनंद को बधाई। दशकों से आप हम सबके लिए प्रेरणादायी रहे हो। भारत को आप पर गर्व है।’

ये भी पढ़ें - दक्षिण अफ्रीका सीरीज शुरू होने से पहले टीम इंडिया को झटका, शिखर की चोट उभरी


ज्यादातर मुकाबलों में आनंद रहे अव्वल

यहां बता दें कि आनंद और कार्लसन के बीच 9 राउंड तक मुकाबला चला। काली मुहरों के साथ खेलते हुए आनंद गेम में शुरु से ही आक्रमक नजर आए। आनंद की आक्रामकता से कार्लसन दवाब में आ गए। दोनों के बीच 34 चालों तक का खेल चला। बता दें कि यहां खेले गए 9 मुकाबलों में आनंद अब तक विजय रहे हैं। इनमें से उन्होंने 5 मुकाबले अपने नाम किए, जबकि 4 ड्रॉ रहे हैं।

 

Todays Beets: