Thursday, October 18, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

पहलवान सुमित को देख विरोधी ने कुश्ती लड़ने से मना किया, विनेश फौगाट ने प्रतिद्वंदी को पटक-पटक कर हराया, दोनों को स्वर्ण 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पहलवान सुमित को देख विरोधी ने कुश्ती लड़ने से मना किया, विनेश फौगाट ने प्रतिद्वंदी को पटक-पटक कर हराया, दोनों को स्वर्ण 

नई दिल्ली । ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में चल रहे राष्ट्रमंडल खेलों में शनिवार को यूं तो भारत के लिए गोल्ड मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों ने कड़ी मशक्कत करके अपने पदक जीते लेकिन कुश्ती के 125 किलोग्राम भार वर्ग में भारतीय खिलाड़ी सुमित को स्वर्ण पदक कुछ अलग ही अंदाज में मिला। असल में 125 किलोग्राम के भार वर्ग में सुमित ने अभी तक अपनी सभी कुश्तियां जीती थीं और उन्हें स्वर्ण पदक जीतने के लिए अपने सामने आने वाले अंतिम पहलवान को हराना था। सुमित अपने चिरपरिचित अंदाज में मैट पर आए, लेकिन जब विपक्षी खिलाड़ी का नाम पुकारा गया तो वह पता चला कि उसने मैच खेलने से मना कर दिया है। हालांकि उनके प्रतिद्वंद्वी नाइजीरिया के सिनिवी बोल्टिक को चोट के चलते मुकाबले में नहीं उतरने की बात कही गई। इससे पहले सुमित ने पाकिस्तान के तैयब रजा को 10- 4 से हराया था।

ये भी पढ़ें- CWG LIVE- स्वर्ण पदक विजेता राहुल अवारे पॉर्डियम पर हुए भावुक, राष्ट्रगान सुनकर खुशी में भर ग...

वहीं भारतीय महिला पहलवान विनेश फौगाट ने भी अपने फाइनल मुकाबले में अपनी प्रतिद्वंदी को उठा-उठाकर पटकते हुए हराया। विनेश की इस जीत के साथ ही भारत को 23वां स्वर्ण पदक मिला है। उधर, पहलवान साक्षी मलिक को फ्रीस्टाइल 62 किलोग्राम में कांस्य मेडल मिला है। उन्होंने कांस्य पदक मुकाबले में न्यूजीलैंड की टेलर फोर्ड को 6-5 से हराया। इस सब के साथ ही भारत 23 स्वर्ण पदक जीतकर अंक तालिका में तीसरे स्थान पर बना हुआ है। भारत के पास इस समय 51 स्वर्ण पदक हो गए हैं। 


ये भी पढ़ें- पढ़ाई छोड़कर राष्ट्रमंडल खेलों को चुनने वाले स्वर्ण पदक विजेता अनीश अब देंगे अपने शेष 10वीं ब...

वही पुरुषों की 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन स्पर्धा में संजीव राजपूत ने गोल्ड मेडल पर निशाना साधा।  इसी स्पर्धा में भारत के चैन सिंह को पांचवां स्थान मिला। इसके साथ ही शूटिंग में भारत के कुल पदकों की संख्या 16 हो गई है, जिनमें 7 गोल्ड, 4 सिल्वर और 5 ब्रॉन्ज शामिल हैं। इसके साथ ही शूटिंग में सर्वाधिक 7 गोल्ड हासिल हो चुके हैं।

वहीं 52 किलोग्राम वर्ग में भारत के मुक्केबाज गौरव सोलंकी ने नॉर्दर्न आयरलैंड के ब्रेंडन इर्विन को 4-1 से मात देकर स्वर्ण पदक पर कब्जा किया। गौरव का यह राष्ट्रमंडल खेलों में पहला पदक है। इसके बाद बॉक्सर मनीष कौशिक 60 किलोग्राम वर्ग फाइनल में मेजबान ऑस्ट्रेलिया के हैरी गर्साइड से हार गए। मनीष को 2-3 से मात मिली, जिससे उन्हें सिल्वर मेडल से संतोष करना पड़ा।

Todays Beets: