Wednesday, August 15, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

रोहित शर्मा के फैसले से गुस्से में थे कार्तिक, फिर बांग्लादेशी बल्लेबाजों पर उतारा अपना गुस्सा, जानिए क्या हुआ ड्रेसिंग रूप में

अंग्वाल न्यूज डेस्क
रोहित शर्मा के फैसले से गुस्से में थे कार्तिक, फिर बांग्लादेशी बल्लेबाजों पर उतारा अपना गुस्सा, जानिए क्या हुआ ड्रेसिंग रूप में

नई दिल्ली । श्रीलंका में आयोजित निदहास ट्रॉफी के फाइनल मैच में 12 गेंदों में 34 रनों के लक्ष्य को आखिरी गेंद पर छक्का जड़कर हारा मैच जीत में बदलकर भारत की झोली में डालने वाले विकेटकीपर-बल्लेबाज दिनेश कार्तिक मैदान पर उतने से पहले काफी गुस्से में थे। जहां पूरी क्रिकेट जगत इस समय कार्तिक की तूफानी पारी की बातें कर रहा है, वहीं एक समय बल्लेबाजी क्रम में नीचे भेजे जाने को लेकर दिनेश कार्तिक कप्तान रोहित शर्मा से खासे नाराज थे। रोहित शर्मा ने इसका खुलासा करते हुए कहा कि कार्तिक छठे स्थान पर बल्लेबाजी के लिए उतरना चाहते थे, लेकिन मैंने अपनी रणनीति और उनके डेथ ओवरों में बल्लेबाजी की क्षमता को जानते हुए उन्हें बल्लेबाजी क्रम में नीचे उतारने का फैसला लिया था, जो आखिरी समय में कार्तिक ने सही साबित कर दिया। कार्तिक ने 8 गेंदों पर दो छक्के दो छक्के लगाकर बांग्लादेश की झोली में जा चुके मैच को पलट दिया।

मैच जीतने के बाद भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि कार्तिक किसी भी हालात में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिये हमेशा तैयार रहता है। साथ ही उनका अनुभव और शॉट जमाने में महारत के कारण वह डेथ ओवरों में भारत के लिये आदर्श खिलाड़ी बन जाते हैं। वह दक्षिण अफ्रीका के पिछले दौरे में हमारे साथ था और उसे वहां खेलने का ज्यादा मौका नहीं मिला, लेकिन आज उसने जो कुछ किया उससे आगे के लिये उसका आत्मविश्वास बढ़ेगा।


रोहित ने कहा कि इस फाइनल मुकाबले में जब मैं आउट हुआ और डगआउट में बैठा था तो कार्तिक थोड़ा नाराज था कि उसे छठे नंबर पर बल्लेबाजी के लिये नहीं भेजा गया। लेकिन मैंने उससे कहा, मैं चाहता हूं कि आप हमारे लिये मैच का अंत करो, क्योंकि आपके स्किल और अनुभव की अंतिम तीन या चार ओवरों में जरूरत पड़ेगी। रोहित ने बताया कि इसी वजह से 13वें ओवर में मेरे आउट होने के बाद दिनेश को छठे नंबर पर बल्लेबाजी के लिये नहीं भेजा गया, वह इससे खफा था लेकिन मैच का सुखद अंत करके अब बहुत खुश है।

Todays Beets: