Monday, September 25, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

विश्व बॉक्सिंग चैंपियनशिप के सेमिफाइनल में हारे भारतीय मुक्केबाज गौरव बिधुड़ी, कांस्य पदक मिला

अंग्वाल न्यूज डेस्क
विश्व बॉक्सिंग चैंपियनशिप के सेमिफाइनल में हारे भारतीय मुक्केबाज गौरव बिधुड़ी, कांस्य पदक मिला

नई दिल्ली । विश्व बॉक्सिंग चैंपियनशिप में भारत को एक ओर झटका लगा है। भारत के युवा मुक्केबाज गौरव बिधुड़ी गुरुवार पुरुषों के 56 किलोग्राम भार वर्ग के सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो गए हैं। गौरव को अमेरिका के ड्यूक रेगन ने 5-0 से मात दी। हालांकि गौरव ने मंगलवार को इतिहास रचते हुए सेमीफाइनल में जगह बनाई थी। बहरहाल अब भारत और गौरव को इस प्रतियोगिता में कांस्य पदक से ही संतोष करना पड़ेगा। अगर गौरव जीतकर फाइनल में पहुंच जाते तो यह कारमाना करने वाले वह पहले भारतीय होते।

ये भी पढ़ें - क्रिकेटर अंबाती रायडू का अधेड़ से हाथापाई वाला वीडियो हुआ वायरल...देखिए कैसे हुए लड़ाई

मेरी सारी कमी जानता था ड्यूक

मैच के बाद गौरव ने कहा कि ड्यूक के कोच कभी मेरे कोच हुआ करते थे, वह मेरी हर अच्छाई और बुराई को जानते थे। इस सब के बारे में उन्होंने ड्यूक को भी बताया होगा। मैच के लिए मैंने काफी अच्छी तैयारी की थी लेकिन मैच के वक्त ड्यूक ने अपना पूरा खेल ही बदल दिया, जिसे मैं समझ ही नहीं पाया। वह खुद अटैक नहीं कर रहा था बल्कि मेरे अटैक किए जाने का इंतजार कर रहा था। हां मैं यह जानता हूं कि यह मेरा सर्वश्रेष्ठ खेल नहीं था। मुझे अफसोस है कि मैं फाइनल तक नहीं पहुंच पाया। 


ये भी पढ़ें - world wrestling championship : साक्षी और विनेश फौगाट पहले दौर में हुई बाहर, भारत को बड़ा झटका

पदक जीतने वाले चौथे भारतीय मुक्केबाज

बता दें कि 24 वर्षीय गौरव अगर इस प्रतियोगिता में सेमीफाइनल जीतकर फाइनल में प्रवेश करते तो वह ऐसा करने वाले पहले भारतीय होते। बहरहाल, 24 वर्षीय गौरव इस चैंपियनशिप में पहली बार उतरे थे और उन्होंने काफी अच्छा प्रदर्शन किया। इतना ही नहीं इस प्रतियोगिता में पदक जीतने वाले वह मात्र चौथे भारतीय मुक्केबाज हैं। इससे पहले विजेंदर सिंह, विकास, कृष्णा और शिव थापा ही विश्व बॉक्सिंग चैंपियनशिप में पदक जीतने में कामयाब हो पाए हैं। विजेंदर पहले ऐसे भारतीय थे जिन्होंने इस प्रतियोगिता में कोई पदक जीता था।

ये भी पढ़ें - शूटिंग रेंज में ततैयों ने मचाया आंतक, महिला निशानेबाज हुई घायल

Todays Beets: