Wednesday, October 17, 2018

Breaking News

   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||   सुप्रीम कोर्ट ने कठुआ मामले में सीबीआई जांच की अर्जी को खारिज किया    ||   मध्यप्रदेश सरकार ने पांच नए सूचना आयुक्त चुने, राज्यपाल को भेजी सिफारिश     ||   बिहार: ASI संग शराब बेच रहा था थानेदार, अरेस्ट     ||

हिजाब पहनने की अनिवार्यता ने नाराज हुई खिलाड़ी, एशियन नेशंस कप चेस चैंपियनशिप से नाम लिया वापस

अंग्वाल न्यूज डेस्क
हिजाब पहनने की अनिवार्यता ने नाराज हुई खिलाड़ी, एशियन नेशंस कप चेस चैंपियनशिप से नाम लिया वापस

नई दिल्ली। भारत की स्टार शतरंज की खिलाड़ी सौम्या स्वामीनाथन ने ईरान में अगले महीने होने वाली एशियन नेशंस कप चेस चैंपियनशिप से अपना नाम वापस ले लिया है। उनके नाम वापस लेने के पीछे की वजह जानकर आप भी आश्चर्य में पड़ जाएंगे। बता दें कि ईरान में 24 जुलाई से 4 अगस्त के बीच एशियन नेशंस कप चेस चैंपियनशिप होनी है। दरअसल ये टूर्नामेंट ईरान में खेला जाना है और वहां सभी महिला खिलाड़ियों के लिए सिर ढंकना (हिजाब या बुर्खा) अनिवार्य है।

 

गौरतलब है कि सौम्या ने हिजाब पहनने से साफ इंकार करते हुए अपना नाम टूर्नामेंट से वापस ले लिया। सौम्या ने इसे मानव अधिकारों को हनन बताया है। सौम्या ने फेसबुक पर अपनी पोस्ट में लिखा, ‘‘मैं समझ सकती हूं कि आयोजक चाहते हैं कि खिलाड़ी किसी भी चैम्पियनशिप में अपने देश की औपचारिक यूनिफॉर्म के साथ ही देश का प्रतिनिधित्व करें, लेकिन इस तरह से किसी धर्म से जुड़ी पोशाक को जबर्दस्ती पहनाने का कोई नियम नहीं है।’’


 

यहां बता दें कि सौम्या स्वामीनाथन से पहले भारतीय शूटर हीना सिद्घू ने 2016 में ऐसा ही कुछ किया था, उन्होंने एशियन एयरगन शूटिंग चैम्पियनशिप से अपना नाम वापस ले लिया था। 

Todays Beets: