Friday, June 22, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

मैच फिक्सिंग की आंच बैडमिंटन के खेल तक पहुंची, फंसे 2 मलेशियाई खिलाड़ी, प्रतिबंध के साथ जुर्माना भी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मैच फिक्सिंग की आंच बैडमिंटन के खेल तक पहुंची, फंसे 2 मलेशियाई खिलाड़ी, प्रतिबंध के साथ जुर्माना भी

नई दिल्ली। अभी तक तो सिर्फ क्रिकेट में ही मैच फिक्सिंग की बातें सामने आई थी लेकिन अब बैडमिंटन में भी ऐसा हुआ है और इसके लिए खिलाड़ियों पर प्रतिबंध के साथ जुर्माना भी लगाया गया है। बता दें कि बैडमिंटन में मैच फिक्सिंग करने वाले ये दोनों ही खिलाड़ी मलेशिया के हैं। इन दोनों खिलड़ियों को भ्रष्टाचार और मैच फिक्सिंग का दोषी पाया गया है और इसके लिए दोनों पर 20 और 15 साल का प्रतिबंध लगाया गया है। 

विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्लूएफ) ने कहा कि पूर्व विश्व चैंपियन 25 वर्षीय जुल्फादली जुल्किफली को 20 साल के लिए प्रतिबंधित किया गया है और उस पर 25 हजार डॉलर का जुर्माना भी लगाया गया है। इसके अलावा 31 वर्षीय तान चुन सीयांग पर 15 साल का प्रतिबंध और 15 हजार डालर का जुर्माना लगाया गया है। विश्व बैडमिंटन महासंघ के अनुसार दोनों को ‘सट्टेबाजी, जुआ और अनियमित मैच परिणाम से संबंधित बीडब्ल्यूएफ आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाया गया है।’


ये भी पढ़ें - आईपीएल में विराट को ‘दोहरा’ झटका, टीम हारी, अब देना होगा 12 लाख रुपये का जुर्माना

यहां बता दें कि बीडब्लूएफ ने इस मामले की सुनवाई फरवरी में सिंगापुर में की थी जिसमें इस बात का खुलासा हुआ कि ये दोनों ही खिलाड़ी 2013 से ही कई महत्वपूर्ण टूर्नामेंट में भ्रष्टाचार में लिप्त थे। बीडब्ल्यूएफ ने कहा कि जुल्फादली तो  लंबे समय तक इसमें लिप्त थे  और उसने 4 मैचों के परिणाम प्रभावित किया था। मलेशिया बैडमिंटन संघ ने इस आरोप के बाद कहा कि इससे उन्हें काफी दुख पहुंचा है। गौर करने वाली बात है कि इन दोनों खिलाड़ियों का प्रतिबंध 12 जनवरी से शुरू होगा क्योंकि उस वक्त बीडब्ल्यूएफ ने इन दोनों को अस्थाई तौर पर निलंबित किया था। बता दें कि तान चुन 2010 में प्रतिष्ठित थाॅमस कप के लिए  मलेशियाई टीम में था। जुल्फादली ने 2011 में डेनमार्क के वर्तमान विश्व चैंपियन विक्टर एक्सलेसन को हराकर विश्व जूनियर चैंपियनशिप जीती थी। 

Todays Beets: