Friday, March 22, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

विश्वस्तरीय मुकाबलों में मेडल चाहिए तो सुविधाएं भी वैसी ही होनी चाहिए- विनेश फोगाट 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
विश्वस्तरीय मुकाबलों में मेडल चाहिए तो सुविधाएं भी वैसी ही होनी चाहिए- विनेश फोगाट 

नई दिल्ली। देश में खेल सुविधाओं को लेकर मशहूर महिला पहलवान विनेश फोगाट ने बड़ा तंज किया है। विनेश फोगाट ने कहा कि पिछले कुछ सालों में खेल सुविधाओं में थोड़ा सुधार हुआ है लेकिन अगर विश्वस्तरीय खेलों में अगर मेडल जीतना है तो सुविधाएं भी वैसी ही होनी चाहिए। बता दें कि विनेश ने कहा कि खिलाड़ियों की  डाइट में थोड़ा सुधार हुआ है लेकिन खेल सुविधाएं वैसी ही हैं। उन्होंने कहा कि महासंघ के साथ इससे जुड़े दूसरे लोगों को भी ईमानदारी से काम करना होगा। 

गौरतलब है कि विनेश फोगाट इन दिनों बेहतरीन फाॅर्म में हैं और एशियन गेम्स से पहले उन्होंने 2 मुकाबलों में स्वर्ण पदक जीता है। इन दिनों वे लखनऊ में अभ्यास कर रही हैं। उनका कहना कि अभ्यास के लिए पर्याप्त सुविधाएं नहीं हैं, इस खेल में पसीना बहुत आता है और प्रैक्टिस हाॅल में गर्मी ज्यादा होने की वजह से उनकी फिटनेस प्रभावित होती है। 


एंडरसन-ब्राॅड के ‘तूफान’ में उड़े भारतीय कागजी शेर, एक पारी और 159 रनों से मिली करारी हार

यहां बता दंे कि विनेश फोगाट ने खेल सुविधाओं के विकास पर जोर देते हुए कहा कि जब तक खेल सुविधाओं का विकास नहीं किया जाएगा मेडल की उम्मीद करना बेकार है। विनेश ने इसके लिए सीधे तौर पर भारतीय कुश्ती महासंघ को जिम्मेदार नहीं ठहराया, उन्होंने कहा कि महासंघ के साथ इससे जुड़े दूसरे लोगों को भी ईमानदारी से काम करना होगा।  

Todays Beets: