Friday, March 22, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

एशियन गेम्स 2108ः पहलवान बजरंग पुनिया ने देश को दिलाई स्वर्णिम सफलता, सुशील कुमार हारकर हुए बाहर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
एशियन गेम्स 2108ः पहलवान बजरंग पुनिया ने देश को दिलाई स्वर्णिम सफलता, सुशील कुमार हारकर हुए बाहर

नई दिल्ली। राष्ट्रमंडल खेलों के बाद एशियन गेम्स में भी भारतीय पहलवानों का दबदबा बरकरार है। जकार्ता में चल रहे एशियाई खेलों में पहलवान बजरंग पुनिया ने देश को पहला स्वर्ण पदक दिलाया है। पुनिया ने 65 किलोग्राम भारवर्ग मंे जापानी पहलवान तकातानी दाईची को 11-8 मात देकर स्वर्ण पदक पर अपना कब्जा जमा लिया। बता दें कि गोल्डकोस्ट काॅमनवेल्थ गेम्स में भी बजरंग पुनिया ने स्वर्ण पदक जीता था। 

गौरतलब है कि राष्ट्रमंडल खेलों में उनके प्रदर्शन को देखते हुए बजरंग को स्वर्ण पदक का मुख्य दावेदार माना जा रहा था। फाइनल राउंड में जापानी पहलवान को हराने से पहले बजरंग पुनिया ने उज्बेकिस्तान के खासानोव सिरोजिद्दीन (13-3), ताजिकिस्तान के फेजिएव अब्दुलकोसिम (12-2) और मंगोलिया के बातचुलुन्न बातमागनाई (10-0) को हराया। 

ये भी पढ़ें - पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति के नेता की गिरफ्तारी के बाद सूरत में तनाव, बसों में लगाई गई आग दु...


यहां बता दें कि भारत के मुख्य पहलवान सुशील कुमार ने 4 सालों के बाद मैदान पर वापसी तो की लेकिन उनकी वापसी इतिहास नहीं रच पाई और बहरीन के पहलवान से हार गए। उनकी हार से भारतीय खेमे में हैरानी का माहौल है।  अपनी हार पर सुशील ने कहा कि मैदान में उतरने से पहले कोई बड़ा टूर्नामेंट न खेलना उनकी हार की वजह बनी। 

 

Todays Beets: