Thursday, November 22, 2018

Breaking News

   ऑस्ट्रेलिया के PM मॉरिशन बोले- भारत दुनिया की सबसे तेजी से आगे बढ़ती अर्थव्यवस्था     ||   पश्चिम बंगालः सिलीगुड़ी की तीस्ता नहर में 4 जिंदा मोर्टार सेल बरामद     ||   मुजफ्फरपुर बालिका गृहकांडः कोर्ट ने मंजू वर्मा को 1 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा     ||   करतारपुर साहिब कॉरिडोर को मंजूरी देने पर CM अमरिंदर ने PM मोदी को कहा- शुक्रिया     ||   करतारपुर कॉरिडोर पर मोदी सरकार की मंजूरी के बाद बोला PAK- जल्द देंगे गुड न्यूज     ||   चौदह दिनों की न्यायिक हिरासत में बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा, कोर्ट में किया था सरेंडर     ||   MP में चुनाव प्रचार के दौरान शख्स ने BJP कैंडिडेट को पहनाई जूतों की माला     ||   बेंगलुरु: गन्ना किसानों के साथ सीएम कुमारस्वामी की बैठक     ||   US में ट्रंप को कोर्ट से झटका, अवैध प्रवासियों को शरण देने से नहीं कर सकते इनकार    ||   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||

बेगूसराय में जहरीली शराब पीने से 4 लोगों की मौत, ‘सुशासन बाबू’ के दावों की खुली पोल

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बेगूसराय में जहरीली शराब पीने से 4 लोगों की मौत, ‘सुशासन बाबू’ के दावों की खुली पोल

पटना। बिहार में शराबबंदी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दावों की पोल खुलती जा रही है। राज्य के अलग-अलग हिस्सों में जहरीली शराब पीने की वजह से मरने वालों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है। बेगूसराय जिले में भी स्प्रिट मिली शराब पीने से चार लोगों की मौत हो गई है। मरने वालों में पोखरिया मोहल्ला के मनोज पासवान (40 साल), लोहिया नगर का प्रदीप कुमार (32), पोखरिया का ही सोनू कुमार और सोनी राम पिता का नाम बलदेव राम शामिल हैं।

गौरतलब है कि ये सभी दोस्त शराब के आदी थे और रोज एक  ही जगह पर बैठकर शराब पीते थे। इनमें से 3 की मौत देर रात हो गई और एक ने सोमवार को दम तोड़ दिया। स्थानीय लोगों ने बताया कि बीती रात चारों दोस्तों ने स्टेडियम में बैठकर खतरनाक स्प्रिट का सेवन किए थे जिसके बाद इनकी स्थिति बिगड़ने लगी। परिजनों के द्वारा इन्हें निजी नर्सिंग होम एवं स्थानीय डॉक्टरों से दिखाया गया लेकिन घंटे भर के अंदर ही चारों की मौत हो गई। घटना के बाद पोखरिया मोहल्ले में मातम पसरा है।

ये भी पढ़ें - सीएम योगी का निर्देश, अब नोएडा सेक्टर 123 से शिफ्ट होगा डंपिंग यार्ड


बता दें कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है इसके बावजूद बड़ी संख्या में शराब की बड़ी खेप पकड़ी जा रही हैं। ऐसे में राज्य की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर बड़े सवाल खड़े हो गए हैं।  

 

Todays Beets: