Sunday, February 24, 2019

Breaking News

   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||

पंचकुला में महिला की इज्जत हुई तार-तार, 40 लोगों ने 4 दिनों तक महिला से किया दुष्कर्म, एएसआई और चौकी इंजार्च सस्पेंड

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पंचकुला में महिला की इज्जत हुई तार-तार, 40 लोगों ने 4 दिनों तक महिला से किया दुष्कर्म, एएसआई और चौकी इंजार्च सस्पेंड

पंचकुला। ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ की शुरुआत करने वाले हरियाणा से एक शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। हरियाणा के पंचकुला में एक महिला को बंधक बनाकर 4 दिनों तक 40 लोगों ने दुष्कर्म किया। पीड़िता का आरोप है कि रायपुररानी-मोरनी रोड पर स्थित कंबवाला गांव के एक गेस्ट हाउस में रखा गया था। पीड़ित महिला द्वारा आपबीती सुनाने के बाद हरियाणा पुलिस की संवेदनहीनता सामने आई जब उन्होंने उसकी एफआईआर दर्ज कराने से मना कर दिया। बाद में मनीमाजरा थाने में एफआईआर दर्ज की गई और 2 लोगों को गिरफ्तार करने के साथ ही मोरनी चौकी इंचार्ज, महिला थाने की एएसआई और इलाके के सिक्योरिटी एजेंट को सस्पेंड कर दिया गया है।

गौरतलब है कि आरोपियों ने महिला के पति को इस बात की लालच दी थी कि वह उसकी पत्नी की गेस्ट हाउस में 12 हजार रुपये प्रतिमाह पर नौकरी लगवा देंगे। महिला की पति अपनी पत्नी को उनलोगों के पास छोड़कर वापस आ गया था। बाद में इन बदमाशों ने महिला को गेस्ट हाउस में लेकर नशीला पदार्थ खिलकार उसके साथ दुष्कर्म किया। बड़ी बात है कि उस महिला के साथ 4 दिनों तक ने 40 लोगों ने दुष्कर्म किया। 

ये भी पढ़ें - सेना भवन में घुसने की 4 बहुरुपियों की कोशिश नाकाम, पुलिस ने किया गिरफ्तार


यहां बता दें कि मामले के उच्च अधिकारियों और मीडिया में आने के बाद आनन-फानन में मोरनी थाने के अधिकारियों पर कार्रवाई की गई और मोरनी चौकी इंचार्ज, महिला थाने की एएसआई और इलाके के सिक्योरिटी एजेंट को सस्पेंड कर दिया गया है। पुलिस ने गिरफ्तार 3 लोगों से पूछताछ शुरू कर दी है। डीसीपी आरके मीणा ने बताया कि मामले की जांच के लिए एएसपी अंशु सिंगला की अध्यक्षता में स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) का गठन कर दिया गया है।

 

Todays Beets: