Monday, January 22, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

11 घंटों की कड़ी मेहनत के बाद 6 डॉक्टरों की टीम ने जोड़ा लड़की का कटा हुआ हाथ

अंग्वाल संवाददाता
11 घंटों की कड़ी मेहनत के बाद 6 डॉक्टरों की टीम ने जोड़ा लड़की का कटा हुआ हाथ

लखनऊ। यूपी के लखीमीपुर-खीरी में बीते दिन हुए दिल दहला देने वाले हादसे में महज एक चार्जर चोरी के आरोप में एक लड़के ने सड़क पर लड़की का तलवार से हाथ काट दिया था, लेकिन अब इस मामले में राहत देने वाली खबर आई है। केजीएमयू के 6 डॉक्टरों ने गुरुवार को 11 घंटे तक सर्जरी कर कटे हुए हाथ को फिर से जोड़ दिया है। संभावना जताई जा रही है कि वह जुड़ा हुआ हाथ फिर से पहले की तरह काम कर सकेगा। 

यह भी पढ़े- कुख्यात डकैत बबली कौल गैंग के साथ मुठभेड़ में यूपी पुलिस का सब इंस्पेक्टर शहीद

इस सर्जरी के बारे में सर्जरी विभाग के डॉ. एके सिंह ने बताया कि जैसे ही केजीएमयू को सूचना मिली तो डॉ. बृजेश के नेतृत्व में डॉक्टरों की टीम तैययार की गई। मरीज को देर रात करीब 9 बजकर 15 मिनट ट्रॉमा सेंटर के कैजुअल्टी वार्ड में दाखिल किया गया था। इसके 10:30 बजे के करीब उसे प्लास्टिक सर्जरी वार्ड में शिफ्ट कर उसकी सर्जरी शुरू की गई। 


यह भी पढ़े- यूपी में एक और दिल दहला देने  वाला हादसा, सिरफिरे ने बीच सड़क पर काटा लड़की का हाथ 

परिजन पॉलोथिन में रखकर लाएं थे हाथ  

डॉ. बृजेश ने बताया कि पीड़िता की बाएं हाथ की कलाई पूरी तरह से हाथ से अलग हो गई थी।  जिसे परिजन एक पॉलिथिन में रखकर लाए थे। वहीं दाएं हाथ में कई जगह गंभीर घाव होने के साथ ही सिर पर भी तलवार के वार चोट आई थी। डॉक्टर ने बताया कि पूरी तरह हाथ से अलग हुई कलाई को एक विशेष तार की मदद से हड्डी से जोड़ा गया है। इसके बाद सफैलिन वेन, रेडियल और मीडिटन आर्टरी को जोड़ा गया, जिससे हाथ के दोबारा काम करने की संभावना बढ़ गई है। 

Todays Beets: