Tuesday, September 19, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

11 घंटों की कड़ी मेहनत के बाद 6 डॉक्टरों की टीम ने जोड़ा लड़की का कटा हुआ हाथ

अंग्वाल संवाददाता
11 घंटों की कड़ी मेहनत के बाद 6 डॉक्टरों की टीम ने जोड़ा लड़की का कटा हुआ हाथ

लखनऊ। यूपी के लखीमीपुर-खीरी में बीते दिन हुए दिल दहला देने वाले हादसे में महज एक चार्जर चोरी के आरोप में एक लड़के ने सड़क पर लड़की का तलवार से हाथ काट दिया था, लेकिन अब इस मामले में राहत देने वाली खबर आई है। केजीएमयू के 6 डॉक्टरों ने गुरुवार को 11 घंटे तक सर्जरी कर कटे हुए हाथ को फिर से जोड़ दिया है। संभावना जताई जा रही है कि वह जुड़ा हुआ हाथ फिर से पहले की तरह काम कर सकेगा। 

यह भी पढ़े- कुख्यात डकैत बबली कौल गैंग के साथ मुठभेड़ में यूपी पुलिस का सब इंस्पेक्टर शहीद

इस सर्जरी के बारे में सर्जरी विभाग के डॉ. एके सिंह ने बताया कि जैसे ही केजीएमयू को सूचना मिली तो डॉ. बृजेश के नेतृत्व में डॉक्टरों की टीम तैययार की गई। मरीज को देर रात करीब 9 बजकर 15 मिनट ट्रॉमा सेंटर के कैजुअल्टी वार्ड में दाखिल किया गया था। इसके 10:30 बजे के करीब उसे प्लास्टिक सर्जरी वार्ड में शिफ्ट कर उसकी सर्जरी शुरू की गई। 


यह भी पढ़े- यूपी में एक और दिल दहला देने  वाला हादसा, सिरफिरे ने बीच सड़क पर काटा लड़की का हाथ 

परिजन पॉलोथिन में रखकर लाएं थे हाथ  

डॉ. बृजेश ने बताया कि पीड़िता की बाएं हाथ की कलाई पूरी तरह से हाथ से अलग हो गई थी।  जिसे परिजन एक पॉलिथिन में रखकर लाए थे। वहीं दाएं हाथ में कई जगह गंभीर घाव होने के साथ ही सिर पर भी तलवार के वार चोट आई थी। डॉक्टर ने बताया कि पूरी तरह हाथ से अलग हुई कलाई को एक विशेष तार की मदद से हड्डी से जोड़ा गया है। इसके बाद सफैलिन वेन, रेडियल और मीडिटन आर्टरी को जोड़ा गया, जिससे हाथ के दोबारा काम करने की संभावना बढ़ गई है। 

Todays Beets: