Monday, August 20, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

झारखंड में कस्तूरबा गांधी विद्यालय से भागी 76 लड़कियां, पुलिस ने 11 को किया बरामद

अंग्वाल न्यूज डेस्क
झारखंड में कस्तूरबा गांधी विद्यालय से भागी 76 लड़कियां, पुलिस ने 11 को किया बरामद

रांची। बिहार के मुजफ्फरपुर में बालिका गृह कांड का मामला अभी पूरी तरह से ठंडा नहीं पड़ा है और झारखंड से भी एक चैंकाने वाली खबर सामने आई है। झारखंड के पश्चिम सिंहभूम के मझगांव प्रखंड में स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय से बुधवार की दोपहर 76 छात्राओं के भागने की खबर आई है। इस खबर के बाद से शिक्षा विभाग में पूरी तरह से हड़कंप मचा हुआ है। बताया जा रहा है कि ये छात्राएं बिल्कुल सुबह करीब साढ़े 5 बजे विद्यालय से भाग गईं। 

गौरतलब है कि 76 बच्चियों के भागने के बाद विद्यालय के वार्डन संगीता कुमारी ने कहा कि इसकी सूचना थाना के साथ ही बीडीओ और जिला शिक्षा विभाग को दे दी गई है। थाने को सूचना मिलने के बाद पुलिस ने तलाशी अभियान चलाकर 11 लड़कियों को बरामद कर स्कूल पहुंचा दिया है। 

खबरों के अनुसार 10वीं की परीक्षा में खराब परिणाम आने के बाद शिक्षा विभाग ने अनुबंधित शिक्षकों को हटाने का आदेश दिया है। इसी के तहत कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय मझगांव के 4 शिक्षक-शिक्षिकाओं को हटाने का नोटिस विद्यालय प्रबंधन को मिला है लेकिन छात्राएं शिक्षकों को हटाए जाने के पक्ष में नहीं थीं। विभाग के आदेश का विरोध करने के लिए ये अपने-अपने घर चली गई थी।  


ये भी पढ़ें - चेंबूर के भारत पेट्रोलियम प्लांट में लगी भीषण आग, दमकल की 7 गाड़ियां आग पर काबू पाने में जुटी

पुलिस द्वारा बरामद करने के बाद स्कूल पहुंची छात्रा के अनुसार स्कूल में शिक्षकों की काफी कमी है इसके बावजूद विभाग ने 4 शिक्षकों को हटाने के आदेश दे दिए। इस आदेश के बाद कई शिक्षकों ने विद्यालय आना बंद कर दिया है और स्कूल में पढ़ाई नहीं हो रही है। ऐसे में स्कूल में रहना का कोई मतलब नहीं है। 

Todays Beets: