Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

अलिगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी शुरू करेगी मौलवी बनाने का कोर्स , सेना में मिल सकेगी नायब सूबेदार रैंक पर भर्ती 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अलिगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी शुरू करेगी मौलवी बनाने का कोर्स , सेना में मिल सकेगी नायब सूबेदार रैंक पर भर्ती 

नई दिल्ली । देश की चर्चित यूनिवर्सिटी में से एक अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी(AMU) जल्द ही कुछ नए कोर्स की शुरुआत करने जा रहा है, जिसमें कोर्स करने वाले छात्रों को भारतीय सेना में मौलवी के पद पर सीधे आवेदन का मौका मिलेगा।  इससे मदरसों में पढ़ने वाले लड़कों के लिए सरकारी नौकरी का रास्ता भी खुलेगा। इतना ही नहीं सेना में उनकी भर्ती सीधे नायब सूबेदार की रैंक पर होगी। खबर है कि AMU नए शैक्षणिक सत्र से इस्लामिक चैपलिन नाम से एक साल का डिप्लोमा कोर्स शुरू करने जा रहा है। कॉलेज में इस कोर्स को करने के बाद बच्चों के सामने सेना सहित कई सरकारी महकमों में मौलवी का पद मिल सकेगा।

हालांकि इस सब के लिए एक बात अहम है कि एएमयू के इन नए कोर्स को करने के लिए ये मदरसे से आने वाले छात्र अदीब-कामिल या अदीब-माहिर यानी बीए के बराबर मदरसे की कोई डिग्री हो। इसके बाद ही ये छात्र एक साल का डिप्लोमा पा सकेंगे। खास बात ये भी है कि लड़कों के साथ-साथ लड़कियां भी इस कोर्स को कर सकेंगी।


जानकारी के मुताबिक , पहले चरण में इस कोर्स के लिए मात्र 10 छात्रों को लिया जाएगा, जिसमें 5 सीटें लड़कियो के लिए आरक्षित होंगी। इस कोर्स को करने वालों को सेना अस्पताल, जेल प्रशासन जैसे दूसरे जगहों पर नियुक्ति मिलेगी।  

Todays Beets: