Monday, October 23, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

नक्सलियों से निपटेगी सीआरपीएफ की युवा प्लाटून, नक्सली हमले के समय तुरंत करेगी कार्रवाई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
नक्सलियों से निपटेगी सीआरपीएफ की युवा प्लाटून, नक्सली हमले के समय तुरंत करेगी कार्रवाई

पटना।

बिहार में नक्सलियों से निपटने के लिए सीआरपीएफ युवा प्लाटून बनाने की तैयारी कर रहा है। सीआरपीएफ की यह युवा प्लाटून किसी भी जगह नक्सली हमले या वारदात के समय तुरंत कार्रवाई के लिए तैयार रहेगी। इस दस्ते का इस्तेमाल दुर्गम जंगली व पहाड़ी इलाकों में नक्सलियों से मुकाबले के साथ ही अन्य ऑपरेशन में किया जाएगा। शनिवार को इस संबंध में सीआरपीएफ के बिहार सेक्टर के आईजी एमएस भाटिया ने सभी बटालियनों में एक युवा प्लाटून तैयार करने को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं।

ये भी पढ़ें— हरियाणा भाजपा अध्यक्ष का बेटा युवती से छेड़छाड़ में गिरफ्तार, शराब के नशे में गाड़ी से पीछा भी किया

इन निर्देशों के तहत अगर किसी रेलवे स्टेशन या थाना या अन्य ऐसे  किसी सरकारी या निजी प्रतिष्ठानों को कोई नक्सली दस्ता अपने कब्जे में लेता है, तो इसके खिलाफ सीआरपीएफ का यह दस्ता त्वरित कार्रवाई करेगा। सीआरपीएफ कमांडो कस यह युवा दस्ता तुरंत उस स्थान पर पहुंचेगा और नक्सलियों के खिलाफ व्यापक कार्रवाई करेगा।

ये भी पढ़ें— झांसी के एसडीएम आॅफिस से आईएसआई को भेजे गए सेना के गोपनीय दस्तावेज, एटीएस ने दफ्तर को किया सीज


विशेष तौर पर दिया जाएगा प्रशिक्षण

शनिवार को हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि इस युवा प्लाटून में विशेष तौर पर प्रशिक्षण प्राप्त कमांडो को रखा जाएगा। यह कमांडो किसी भी परिस्थिति के लिए तैयार रहेंगे। इस प्लाटून में खासतौर पर नए बहाल हुए रंगरूटों को शामिल किया जाएगा। दरअसल सीआरपीएफ (पारा मिलिट्री फोर्स) में रिटायरमेंट की उम्र सीमा 60 वर्ष होती है। ऐसे में नए रंगरूटों को स्पेशल ऑपरेशन के लिए रिजर्व रखा जाएगा ताकि वे विपरीत भौगोलिक व चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में भी पूरा दम-खम दिखा सकें। बैठक में उन इलाकों को चिन्हित किया गया, जहां आने वाले दिनों में ऑपरेशन चलाया जाएगा।

ये भी पढ़ें— भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस नीति अपनाने वाले नितीश कुमार की नई सरकार के तीन-चौथाई मंत्री दागदार

 

Todays Beets: