Tuesday, August 22, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

नक्सलियों से निपटेगी सीआरपीएफ की युवा प्लाटून, नक्सली हमले के समय तुरंत करेगी कार्रवाई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
नक्सलियों से निपटेगी सीआरपीएफ की युवा प्लाटून, नक्सली हमले के समय तुरंत करेगी कार्रवाई

पटना।

बिहार में नक्सलियों से निपटने के लिए सीआरपीएफ युवा प्लाटून बनाने की तैयारी कर रहा है। सीआरपीएफ की यह युवा प्लाटून किसी भी जगह नक्सली हमले या वारदात के समय तुरंत कार्रवाई के लिए तैयार रहेगी। इस दस्ते का इस्तेमाल दुर्गम जंगली व पहाड़ी इलाकों में नक्सलियों से मुकाबले के साथ ही अन्य ऑपरेशन में किया जाएगा। शनिवार को इस संबंध में सीआरपीएफ के बिहार सेक्टर के आईजी एमएस भाटिया ने सभी बटालियनों में एक युवा प्लाटून तैयार करने को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं।

ये भी पढ़ें— हरियाणा भाजपा अध्यक्ष का बेटा युवती से छेड़छाड़ में गिरफ्तार, शराब के नशे में गाड़ी से पीछा भी किया

इन निर्देशों के तहत अगर किसी रेलवे स्टेशन या थाना या अन्य ऐसे  किसी सरकारी या निजी प्रतिष्ठानों को कोई नक्सली दस्ता अपने कब्जे में लेता है, तो इसके खिलाफ सीआरपीएफ का यह दस्ता त्वरित कार्रवाई करेगा। सीआरपीएफ कमांडो कस यह युवा दस्ता तुरंत उस स्थान पर पहुंचेगा और नक्सलियों के खिलाफ व्यापक कार्रवाई करेगा।

ये भी पढ़ें— झांसी के एसडीएम आॅफिस से आईएसआई को भेजे गए सेना के गोपनीय दस्तावेज, एटीएस ने दफ्तर को किया सीज


विशेष तौर पर दिया जाएगा प्रशिक्षण

शनिवार को हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि इस युवा प्लाटून में विशेष तौर पर प्रशिक्षण प्राप्त कमांडो को रखा जाएगा। यह कमांडो किसी भी परिस्थिति के लिए तैयार रहेंगे। इस प्लाटून में खासतौर पर नए बहाल हुए रंगरूटों को शामिल किया जाएगा। दरअसल सीआरपीएफ (पारा मिलिट्री फोर्स) में रिटायरमेंट की उम्र सीमा 60 वर्ष होती है। ऐसे में नए रंगरूटों को स्पेशल ऑपरेशन के लिए रिजर्व रखा जाएगा ताकि वे विपरीत भौगोलिक व चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में भी पूरा दम-खम दिखा सकें। बैठक में उन इलाकों को चिन्हित किया गया, जहां आने वाले दिनों में ऑपरेशन चलाया जाएगा।

ये भी पढ़ें— भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस नीति अपनाने वाले नितीश कुमार की नई सरकार के तीन-चौथाई मंत्री दागदार

 

Todays Beets: