Saturday, July 21, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

योगी के खिलाफ निगरानी याचिका पर हाईकोर्ट करेगी सुनवाई, समर्थकों पर है फायरिंग और बवाल का आरोप

प्रियंका गुप्ता
योगी के खिलाफ निगरानी याचिका पर हाईकोर्ट करेगी सुनवाई, समर्थकों पर है फायरिंग और बवाल का आरोप

इलहाबाद। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने खिलाफ दायर एक पुराने मामले को लेकर मुश्किलों में पड़ सकते हैं। सीएम के खिलाफ आपराधिक मुकदमा चलाए जाने को लेकर हाईकोर्ट में दाखिल निगरानी याचिका पर बुधवार को सुनवाई करेगी। यह याचिका ग्रीष्मावकाश के समय दाखिल की गई थी, जिस पर कोर्ट ने 4 जुलाई को सुनवाई की तिथि तय की थी। दरअसल इस मामले में  सेशन कोर्ट महाराजगंज के उस फैसले को चुनौती दी गई है, जिसमें सेशनकोर्ट ने याची की निगरानी खारिज कर दी थी।

ये भी पढ़े-मुख्य सचिव मारपीट मामले में पुलिस की केजरीवाल के निजी सचिव से पूछताछ


यहां आपको बता दें कि यह याचिका महाराजगंज के अजीज ने दाखिल की है। इस याचिका में सीएम पर आरोप है कि 10 फरवरी 1999 में योगी आदित्यनाथ के समर्थकों ने बवाल और फायरिंग की थी, जिसमे याचिकाकर्ता के गार्ड को गोली लगने से उसकी मौत हो गई थी।

Todays Beets: