Wednesday, November 14, 2018

Breaking News

   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||

योगी के खिलाफ निगरानी याचिका पर हाईकोर्ट करेगी सुनवाई, समर्थकों पर है फायरिंग और बवाल का आरोप

प्रियंका गुप्ता
योगी के खिलाफ निगरानी याचिका पर हाईकोर्ट करेगी सुनवाई, समर्थकों पर है फायरिंग और बवाल का आरोप

इलहाबाद। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने खिलाफ दायर एक पुराने मामले को लेकर मुश्किलों में पड़ सकते हैं। सीएम के खिलाफ आपराधिक मुकदमा चलाए जाने को लेकर हाईकोर्ट में दाखिल निगरानी याचिका पर बुधवार को सुनवाई करेगी। यह याचिका ग्रीष्मावकाश के समय दाखिल की गई थी, जिस पर कोर्ट ने 4 जुलाई को सुनवाई की तिथि तय की थी। दरअसल इस मामले में  सेशन कोर्ट महाराजगंज के उस फैसले को चुनौती दी गई है, जिसमें सेशनकोर्ट ने याची की निगरानी खारिज कर दी थी।

ये भी पढ़े-मुख्य सचिव मारपीट मामले में पुलिस की केजरीवाल के निजी सचिव से पूछताछ


यहां आपको बता दें कि यह याचिका महाराजगंज के अजीज ने दाखिल की है। इस याचिका में सीएम पर आरोप है कि 10 फरवरी 1999 में योगी आदित्यनाथ के समर्थकों ने बवाल और फायरिंग की थी, जिसमे याचिकाकर्ता के गार्ड को गोली लगने से उसकी मौत हो गई थी।

Todays Beets: