Thursday, October 18, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

यूपी में सामने आया एक और करोड़पति इंजीनियर, आयकर विभाग ने पकड़ी चोरी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यूपी में सामने आया एक और करोड़पति इंजीनियर, आयकर विभाग ने पकड़ी चोरी

नई दिल्ली। आयकर विभाग ने उत्तर प्रदेश में एक और करोड़पति इंजीनियर का खुलासा किया है। नोएड़ा में गुरुवार को आयकर विभाग की टीम ने असिस्टेट प्रोजेक्ट इंजीनियर बृजपाल चौधरी के कई ठिकानों पर छापेमारी की यह छापेमारी करीब दस घंटे तक चली जिसमें करोड़ों-अरबों की बेनामी और नामी संपत्ति के कागजात सीज किए गए। इस छापेमारी के बाद आयकर विभाग की टीम ने बृजपाल चौधरी के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के मामले में कार्रवाई कर रही है। गुरुवार को आयकर विभाग के 15 अधिकारियों की टीम ने बृजपाल चौधरी के घर और कई ठिकानों पर छापेमारी शुरू कर दी इस दौरान टीम को पैसों के लेखे-जोखे के लिए प्रिंटर मशीन और तमाम सामान भी मंगवाने पड़ गए।

ये भी पढ़े - मंच पर बच्ची ने राजनाथ सिंह से कर दी ऐसी फरमाइश कि मना नहीं कर पाए गृहमंत्री

यहां आपको बता दें कि टीम ने सुबह 7 बजे चौधरी के घर पर छापा मारा यह पड़ताल 10 घंटे तक चली इस दौरान टीम की दिन की छापेमारी में करोंड़ों-अरबों की बेनामी और नामी संपत्ति के कागजात सीज किए। इतना ही नहीं बृजपाल की काली कमाई का काफी पैसा कई दूसरी कंपनियों और होटलों में भी लगा रखा है जिसके कागजात बरामद हुए।

गौरतलब है कि 1981 में बृजपाल बतौर जूनियर इंजीनियर नोएडा प्राधिकरण में भर्ती होने के 20 साल तक कोई प्रमोशन नहीं हुआ। जिसके बाद भी यह इंजीनियर करोड़ों-अरबों की काली संपत्ति का मालिक है।


ये भी पढ़े - पूर्व राष्ट्रपति के आरएसएस कार्यक्रम में संबोधन के बाद कांग्रेसी नेताओं के बदले सुर, कहा- ‘दा...

छापे के दौरान पता चला की बृजपाल के पास घर से वीआईपी कार कई हार्ड डिस्क 3 लक्जरी गाड़ियों के साथ-साथ नोएड़ा में 3 कोठियां कई कंपनियों के शेयर, दर्जनों फ्लैट, प्लॉट , फैक्ट्री होटल समेत कई फार्म हाउस भी हैं।

ये भी पढ़े - यूपी के सबसे बड़े अस्पताल में एसी खराब होने से 5 मरीजों की मौत के बाद हड़कंप, दिए गए जांच के आदेश

फिलहाल आयकर विभाग ने बृजपाल के खातों की जांच करने के लिए खातों को सीज कर दिया हैं। इसके साथ घर के अन्य सदस्यों के खातों पर भी आयकर विभाग की नजर है। बृजपाल ने अपने पद का फायदा उठाते हुए नोएडा प्राधिकरण में कई लोगों को नौकरी पर रखवाकर करोड़ों की कमाई की गौरतलब है कि बृजपाल 3 बार नोएडा इम्पलॉइज एसोसिएशन का अध्यक्ष रह चुका है। इस वर्ष दिसंबर में वह रिटायर होने वाला है। परंतु इससे पहले आयकर विभाग को अवैध संपत्तियों का पता चलने पर शासन को रिपोर्ट भेजी गई जिसके बाद कार्रवाई शुरू की गई।

Todays Beets: