Tuesday, August 14, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

 रोहिणी में पड़ोसी ने पीट- पीटकर की बुजुर्ग की हत्या, हुआ फरार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
 रोहिणी में पड़ोसी ने पीट- पीटकर की बुजुर्ग की हत्या, हुआ फरार

नई दिल्ली। दिल्ली के रोहिणी इलाके से एक चौका देने वाला मामला समने आया हैं। एक बिजनसमैन के 78 वर्षीय पिता की उनके फ्लैट के बाहर ही पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। मृतक की पहचान ताराचंद के रुप में हुई है। इस हत्या की वजह जानकर सब हैरान हैं। थर्ड फ्लोर पर रह रहे बिजनसमैन का परिवार सब्जी-दूध जैसी चीजों के लिए रस्सी से टोकरी लटकाकर सामान लेता था। आरोप है कि ग्रांउड फ्लोर पर रहने वाला शख्स लगातार इसका विरोध कर रहा था। इस बात को लेकर बिजनसमैन से उसकी कहासुनी हो गई हो गई। शाम को जब बुजुर्ग ने बातचीत की कोशिश की तो शख्स ने गुस्सें में आकर ईंट से हमला कर दिया।

यहां गौर करने वाली बात है कि घटना के समय लोग वहा खड़े केवल तमाशा देखते रहे लेकिन किसी ने भी बुजुर्ग को बचाने की कोशिश नहीं की। बुजुर्ग को परिवारवाले जब तक अस्पताल लेकर गए तब तक बुजुर्ग की मृत्यु हो चुकी थी। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया। बेगमपुर पुलिस इस मामले की जांच में लगी है। 

पुलिस के मुताबिक, रवि प्रकाश मित्तल (42) परिवार के साथ रोहिणी सेक्टर-22 में रहते हैं। रोहिणी में ही उनका हार्डवेयर सेनेटरी का बिजनस है। तीसरी मंजिल पर रहने वाले पीड़ित परिवार ने सामान लेने के लिए ऊपर से थैला नीचे लटकाया तो ईश्वर ने थैला लटकाने का विरोध किया जिस पर रवि मित्तल नीचे आए और दोनों में इस बात को लेकर झड़प हो गई। जिस पर आस-पास के लोगों ने आकर बीच बचाव किया। पड़ोसियों के समझाने पर दोनों शांत हो गए पर शाम तक मामले ने तूल पकड़ लिया और गुस्साए ईश्वर प्रसाद ने पीटपीटकर ताराचंद की हत्या दी। ताराचंद को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस का कहना है कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों का पता चल पाएगा।


 

 

Todays Beets: