Thursday, February 22, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

तेजस्वी ने सीएम 'सुशासन बाबू' नीतीश कुमार के साथ नहीं किया मंच साझा, नहीं आए विश्व युवा कौशल दिवस समारोह में

अंग्वाल संवाददाता
तेजस्वी ने सीएम

पटना। बेनामी संपत्ति के मामले में घिरे राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के पुत्र और सूबे के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अनबन सामने दिखने लगी है। इसी अनबन के चलते शनिवार को उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने विश्व युवा कौशल दिवस समारोह में सीएम के साथ मंच सांझा नहीं किया। विवादों के चलते उन्होंने इस कार्यक्रम से कन्नी काट ली। इसके चलते स्टेज पर तेजस्वी की सीट पर लगी नेम प्लेट को ढक दिया। इस सब के बाद एक बार फिर राजद और जदयू के बीच तेजस्वी के इस्तीफे को लेकर पैदा हुआ गतिरोध और चरम पर नजर आ रहा है। 

बता दें कि विश्व युवा कौशल दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव दोनों को शिरकत करनी थी, लेकिन इस कार्यक्रम में शिरकत करने से तेजस्वी ने मना कर दिया है। सामने आ रहा है कि बेनामी संपत्ति के चलते उपजे विवादों के बाद जदयू द्वारा तेजस्वी का इस्तीफा मांगे जाने से नाराज तेजस्वी, सीएम के साथ मंच सांझा नहीं करना चाहते। इन्हीं कारणों से उन्होंने इस समारोह में शिरकत करने से मना कर दिया है। इन खबरों के बाद स्टेज पर उनके सीट पर लगी नेमप्लेट को ढक दिया गया है। 


लालू परिवार के सदस्यों पर बेनामी संपत्ति के आरोपों के साथ ही उपमुख्यमंत्री का नाम भी विवादों में घिरने पर भाजपा ने उनके इस्तीफे की मांग की थी। इसके बाद सुशासन बाबू के नाम से पहचान बना चुके सीएम नीतीश कुमार से उन्हें पद से हटाने की मांग की गई। इस सब के चलते जदयू और राजद के बीच गतिरोध पैदा हो गया है। जदयू ने साफ कर दिया है कि राजद को तेजस्वी के इस्तीफे को लेकर ठोस निर्णय लेना होगा, चाहे वह उसकी जगह किसी को भी अपनी ओर से उपमुख्यमंत्री पद पर तैनात कर दें। इन सब विवादों के चलते बिहार में महागठबंधन टूटने की कगार पर है, क्योंकि राजद के विधायक पीछे हटने को तैयार नहीं है और नीतीश कुमार खुद कह चुके हैं कि अगर दी गई समयसीमा के अंदर तेजस्वी ने इस्तीफा नहीं दिया तो वो खुद पद छोड़ देंगे। 

Todays Beets: