Sunday, February 17, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

गुस्साए सिटी मजिस्ट्रेट ने पत्रकारों से की मारपीट , भ्रष्टाचार के खिलाफ धऱना-प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों से सवाल पूछने का किया विरोध

अंग्वाल न्यूज डेस्क
गुस्साए सिटी मजिस्ट्रेट ने पत्रकारों से की मारपीट , भ्रष्टाचार के खिलाफ धऱना-प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों से सवाल पूछने का किया विरोध

बांदा । उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में सिटी मजिस्ट्रेट ने भ्रष्टाचार के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों से सवाल पूछने वाले पत्रकारों से मारपीट की । घटना शुक्रवार दोपहर की है, जब भ्रष्टचार के खिलाफ क्षेत्र के ग्रामीण धरना -प्रदर्शन कर रहे थे। इस घटनाक्रम को कवर करने आए पत्रकारों ने जब ग्रामीणों से कुछ सवाल जवाब किए तो सिटी मजिस्ट्रेट उनसे भिड़ गए और उनके साथ मारपीट की। वह पत्रकारों को ग्रामीणों के बयान लेने से रोक रहे थे। इस घटना के उजागर होने के बाद अब आयुक्त ने इस घटना को लेकर आश्वासन दिया है कि घटना की जांच होने के बाद दोषी पाए जाने पर सरकारी अफसर के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। जहां पत्रकार अब सिटी मजिस्ट्रेट के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की मांग कर रहे हैं, वहीं सिटी मजिस्ट्रेट का कहना है कि मैंने किसी के साथ कोई मारपीट नहीं की। 

सवाल पूछने का किया विरोध

घटना बांदा जिले के बबेरू क्षेत्र स्थित गांव भदेहदू की है। गांव के कुछ ग्रामीण भ्रष्टाचार के खिलाफ जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन कर रहे थे । जिला प्रशासन ने सिटी मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार को ग्रामीणों का ज्ञापन लेने भेजा। इस दौरान कुछ पत्रकार ग्रामीणों से बातचीत कर रहे थे। पत्रकारों ने ग्रामीणों से भ्रष्टाचार से संबंधित पूछताछ की तो सिटी मजिस्ट्रेट भड़क गए और उनके साथ मारपीट की गई। उसमें कुछ पत्रकार घायल भी हो गए। 


डीएम से जांच रिपोर्ट मांगी

इस घटनाक्रम पर कमिश्नर शरद कुमार सिंह ने कहा कि इस तरह का व्यवहार पूरी तरह गलत है। वह सिटी मजिस्ट्रेट के खिलाफ शासन को पत्र लिखेंगे और फिलहाल जिलाधिकारी से जांच रिपोर्ट मांगी गई है। वहीं सिटी मजिस्ट्रेट ने मारपीट की घटना से इनकार करते हुए कहा कि पत्रकारों ने कुछ सवाल पूछना चाहा, जिसपर मैंने सिर्फ इतना कहा कि इस बारे में डीएम से सवाल पूछें। 

Todays Beets: