Thursday, January 18, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

झांसी के एसडीएम आॅफिस से आईएसआई को भेजे गए सेना के गोपनीय दस्तावेज, एटीएस ने दफ्तर को किया सीज

अंग्वाल न्यूज डेस्क
झांसी के एसडीएम आॅफिस से आईएसआई को भेजे गए सेना के गोपनीय दस्तावेज, एटीएस ने दफ्तर को किया सीज

झांसी।

उत्तर प्रदेश के झांसी जिले में चौंकाने वाला मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार, झांसी के एसडीएम आॅफिस से पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई को सेना से जुड़े गोपनीय दस्तावेज भेजे गए हैं। खुफिया विभाग की इस सूचना के बाद एटीएस टीम ने झांसी के एसडीएम सदर के दफ्तर पर छापा डाला और कर्मचारियों से पूछताछ की। छापेमारी के दौरान एटीएस अधिकारियों ने कंप्यूटर, पेन ड्राइव व कई अभिलेख अपने कब्जे में ले लिए हैं। जांच और पूछताछ का क्रम जारी रहेगा।

ये भी पढ़ें— अलगाववादी नेताओं को NIA कोर्ट ने 10 दिन की हिरासत पर भेजा

सूत्रों ने बताया कि एक-दो दिनों में इस सिलसिले में गिरफ्तारी भी हो सकती है। उत्तर प्रदेश  एटीएस के आईजी असीम अरुण ने बताया कि खुफिया इकाइयों से यह सूचना मिली थी कि झांसी स्थित एसडीएम सदर के कार्यालय से भारतीय सेना से जुड़ी गोपनीय सूचनाएं दूसरे मुल्कों के जासूसी एजेंटों तक भेजी जा रही हैं। इसके बाद एटीएस के उप निरीक्षक केएम राय की अगुवाई में यहां पर छापा मारा गया और कंप्यूटर, पेन ड्राइव और कई दस्तावेजों को कब्जे में ले लिया गया है।

ये भी पढ़ें— हुर्रियत के अलागगवादी नेताओं को दिल्ली में नहीं मिल रहे वकील, गिलानी समेत अन्य नेताओं से भी ह...


पहले भी सामने आ चुका है ऐसा मामला

झांसी से आईएसआई को सूचना देने का मामला पहले भी सामने आ चुका है। 2014 में एटीएस ने रिटायर्ड सूबेदार इंद्रपाल कुशवाहा को गिरफ्तार किया था। कुशवाहा के पास से दो सीडी मिली थीं, जिसमें सेना का युद्ध प्लान, सैन्य अधिकारियों की जानकारी और सेना से जुड़ी कई अति संवेदनशील जानकारियां थीं। उसने इन जानकारियों को आईएसआई को बेची थीं। इससे पहले सितंबर 2009 में उत्तर प्रदेश एटीएस ने झांसी से ही आईएसआई को सूचनाएं भेजने वाले पाकिस्तान के इम्तियाज अली सिद्दीकी और कानपुर के बिठूर से वकास अहमद उर्फ जाहिद को पकड़ा था।

ये भी पढ़ें— भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस नीति अपनाने वाले नितीश कुमार की नई सरकार के तीन-चौथाई मंत्री दागदार

 

 

Todays Beets: