Thursday, July 19, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

मध्यप्रदेश में बजरंग दल की गुंडागर्दी, थाने पर हमला कर अपने सा​थी को छुड़ाया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मध्यप्रदेश में बजरंग दल की गुंडागर्दी, थाने पर हमला कर अपने सा​थी को छुड़ाया

भोपाल।

बजरंग दल अक्सर अपनी गुंडागर्दी को लेकर चर्चा में रहता है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा पुलिस पर अपनी धौंस जमाने और थाने पर हमला करने का मामला सामने आया है। भोपाल में शुक्रवार रात को बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने अपने साथी को छुड़ाने के लिए थाने पर हमला कर दिया। दरअसल, पुलिस ने बजरंग दल के नेता कमलेश ठाकुर को शराब पीकर पुलिस से मारपीट करने के आरोप में पकड़ा था।

ये भी पढ़ें— बच्ची के शव के लिए नहीं मिली एंबुलेंस, पिता कंधे पर उठाकर चल दिए ...

जानकारी के अनुसार, ठाकुर के पकड़े जाने के बाद समर्थकों ने पुलिस  थाने में हंगामा कर दिया और जब पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की, तो उन्होंने सड़क पर चक्काजाम करने का प्रयास किया। पुलिस की मौजूदगी में प्रदर्शनकारी आरोपी को ना सिर्फ छुड़ा कर ले गये, बल्कि पुलिस के सामने ठाकुर को कंधे पर बिठाकर घुमाने लगे।

ये भी पढ़ें— तेजस्वी ने सीएम 'सुशासन बाबू' नीतीश कुमार के साथ नहीं किया मंच साझा, नहीं आए विश्व युवा कौशल ...


पुलिस के सूत्रों ने बताया कि बजरंग दल का प्रांतीय संयोजक कमलेश ठाकुर नशे में धुत, भोपाल के 10 नंबर मार्केट में शराब पी रहा था। देर रात पुलिस ने इस पर ऐतराज जताया तो उसने पुलिसकर्मियों के साथ गाली गलौच शुरू कर दी। पुलिसकर्मियों ने उसे रोकने की कोशिश की तो उसने एक पुलिसकर्मी का कॉलर पकड़ लिया। इसके बाद पुलिस उसे पकड़कर हबीबगंज थाने ले गई, तो दल के लगभग 50 कार्यकर्ता भी वहां पहुंच  गए और हंगामा करते हुए नेता को छुड़ा ले गए। हालांकि इस मामले में ठाकुर का कहना है कि उस पर झूठा आरोप लगाया गया है। कमलेश्श ठाकुर ने कहा कि वह बाजार खरीदारी करने गया था।

ये भी पढ़ें— यूपी विधानसभा की सुरक्षा में एक और बड़ी चूक उजागर, सदन के सीसीटीवी कैमरे नहीं करते हर समय काम

बजरंग दल के हंगामे को देखते हुए पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी हबीबगंज थाने पहुंच गए। मौके पर पहुंचे सीएसपी सीएम द्विवेदी ने बताया कि आरोपी के खिलाफ सरकारी काम में रूकावट डालने, गाली गलौच और मारपीट करने का मामला दर्ज कर लिया गया है।

 

Todays Beets: