Monday, June 17, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

भाजपा युवा मोर्चा अध्यक्ष मोहित भारतीय विलफुल डिफॉल्टर घोषित , बैंक ने तस्वीर अखबार में छपवाई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भाजपा युवा मोर्चा अध्यक्ष मोहित भारतीय विलफुल डिफॉल्टर घोषित , बैंक ने तस्वीर अखबार में छपवाई

मुंबई । भारतीय जनता युवा मोर्चा , मुंबई के अध्यक्ष मोहित भारतीय को बैंक ऑफ बड़ौदा ने विलफुल डिफॉल्टर घोषित किया है । इतना ही नहीं बैंक ने उनकी और जितेंद्र कपूर की तस्वीर लगाकर उन्हें कसूरवार कर्जदार घोषित करते हुए उनकी तस्वीर बतौर डिफॉल्टर अखबार में प्रकाशित की है । बैंक के मुताबिक अव्यान ऑर्नामेंट्स प्राइवेट लिमिटेड कंपनी ने बैंक से कर्ज लिया था लेकिन बाद में कर्ज लौटाया नहीं । वहीं मोहित भारतीय ने बैंक के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करने की चेतावनी दी है ।

इतना ही नहीं मोहित ने अपनी सफाई में एक पत्र जारी कर लिखा है कि वो कंपनी में पार्टनर नहीं बल्कि कर्ज में पर्सनल गारंटर थे । उन्होंने पिछले 2 सालों में अपने हिस्से का 76 करोड़ रुपये लौटा भी दिया है ।

मोहित ने पत्र में लिखा, '2014 के इस मामले में लोअर कोर्ट से बैंक ऑफ बड़ौदा पहले मुकदमा हार चुकी है जो ऑन द रिकॉर्ड है । बैंक ऑफ बड़ौदा ने जिस कंपनी का जिक्र करते हुए मेरी फोटो प्रकाशित की है, मैं उस कंपनी का प्रमोटर नहीं था, केवल पर्सनल गारंटर था । भारतीय ने अपने पत्र में आगे लिखा है कि पर्सनल गारंटर के तौर पर मैंने दो साल में 76 करोड़ रुपए की अपने हिस्से की राशि चुका दी । इस मामले में कोर्ट का फैसला मेरे पक्ष में आया है । अगर बैंक साबित कर दे कि मेरे ऊपर कोई पैसा बकाया है तो मैं पाई पाई चुका दूंगा।'

 


 

 

 

 

Todays Beets: