Wednesday, June 20, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

भाजपा जिलाध्यक्ष ने पार्टी स्थापना दिवस पर पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि, फोटो वायरल होने पर मानी अपनी गलती

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भाजपा जिलाध्यक्ष ने पार्टी स्थापना दिवस पर पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि, फोटो वायरल होने पर मानी अपनी गलती

नई दिल्ली । भाजपा ने शुक्रवार को अपना 38वां स्थापना दिवस मानाया था। पार्टी के करोड़ों कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने अपने अपने राज्यों में अपने स्तर पर इस स्थापना दिवस को मनाया। इस दौरान अधिकांश जगहों पर पार्टी के लोगों ने  पार्टी के संस्थापक दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी को श्रद्धांजलि दी। लेकिन इस दौरान बिहार के बक्सर जिले में एक कार्यक्रम की फोटो काफी वायरल हो गई, जिसे देख भाजपा कार्यकर्ता अपने ही नेताओं पर गुस्सा हो गए। असल में बक्सर में आयोजित स्थापना दिवस कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि की मौजूदगी में पार्टी कार्यकर्ताओं ने पूर्व प्रधानमंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता अटल बिहारी वाजपेयी के फोटो पर भी हार चढ़ाकर उन्हें श्रद्धांजलि दे डाली। अब इस कार्यक्रम की फोटो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रही है, जिसपर पार्टी विरोधी लोग भाजपाई नेताओं की जमकर खिल्ली उड़ा रहे हैं।

बता दें कि शुक्रवार को बिहार के बक्सर जिले में भी भाजपा कार्यकर्ताओं ने पार्टी का 38वां स्थापना दिवस मनाया। इस दौरान मुख्य अतिथि रहे भाजपा के जिलाध्यक्ष राणा प्रताप सिंह। भाजपा जिलाध्यक्ष ने भी इस कार्यक्रम के दौरान दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी की तस्वीर पर फूल माला चढ़ाया और उन्हें श्रद्धांजलि दी। लेकिन हद तो तब हो गई कि जब उन्होंने मंच पर मौजूद पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की मूर्ति पर भी हार चढ़ाकर उन्हें श्रद्धांजलि दे दी।


काफी देर तक इस भूल पर पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं की नजर नहीं गई। इस दौरान पार्टी कार्यकर्ता भूल गए कि फोटो पर फूल की माला उन्हें चढ़ाई जाती है दो अब जीवित नहीं होते, लेकिन भाजपा नेताओं ने वाजपेयी की बीमारी के दौरान बिस्तर पकड़ने के चलते ही उन्हें श्रद्धांजलि दे डाली।  

बहरहाल, पार्टी नेताओं को वहां तो इस मुद्दे पर कोई सुध नहीं आई लेकिन कार्यक्रम की फोटो सोशल मीडिया में डाले जाने पर कुछ लोगों ने इस मुद्दे पर अपनी आवाज उठाई और कहा कि जीवित वाजपेयी को पार्टी नेताओं ने जीते-जी श्रद्धांजलि दे डाली। इसके साथ ही यह फोटो सोशल मीडिया में वायरल हो गई। अब अपनी गलती पर बक्सर के भाजपा जिलाध्यक्ष राणा प्रताप सिंह से कहा कि मैं अपनी गलती स्वीकार करता हूं। मैंने जानबूझकर यह गलती नहीं की है, बल्कि भूलवश उन्होंने वाजपेयी जी की तस्वीर पर माल्यार्पण कर दिया। उन्होंने कहा कि कुछ लोग हमारी पार्टी के ही इस मुद्दे को ज्यादा उछाल रहे हैं, जो मेरे विरोधी हैं। वे मुझे बदनाम करने की साजिश के तहत इस फोटो को ज्यादा उछाल रहे हैं। 

Todays Beets: